Pregnant women will have to take special care during solar eclipse

सूर्य ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाओं को इन बातों का रखना होगा विशेष ध्यान, नहीं तो पड़ सकता है बुरा असर

सूर्य ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाओं को इन बातों का रखना होगा विशेष ध्यान! Pregnant women will have to take special care during solar eclipse

Edited By :   Modified Date:  November 29, 2022 / 01:26 PM IST, Published Date : October 23, 2022/11:06 pm IST

नईदिल्ली। Pregnant women will have to take special care दिवाली के दूसरे दिन इस बार सूर्य ग्रहण के सूतक लग जाएंगे। इसका असर दिवाली पूजा पर भी पड़ेगा। जानकारी के अनुसार, सूर्य ग्रहण 25 अक्टूबर को सुबह 4 बजे ही लग जाएंगे, इस लिए इस तारीख को मंदिर, पूजा पाठ का कोई भी काम नहीं किया जा सकेगा। यानी 25 अक्टूबर के दिन खाली माना जाएगा। वहीं इसका असर गर्भवती महिलाओं पर भी पड़ता है। गर्भवती महिलाओं को सूर्य ग्रहण के दौरान अपना खास ध्यान रखना पड़ता है। क्योंकि इसका असर आपके गर्भ में पल रहे बच्चे पर पड़ सकता है। आइए जानते है सूर्य ग्रहण के दौरान महिलाओं को किन बातों का ध्यान रखना बेहद जरूरी है।

Read More: MP weather update: बेफ्रिक होकर मनाए दिवाली, नहीं होगी बारिश, जानें क्या कहती है मौसम विभाग की रिपोर्ट 

Pregnant women will have to take special care शास्त्रों के अनुसार, ग्रहण को अशुभ माना जाता है। इस दौरान खासकर गर्भवती महिलाओं को खास ध्यान रखना बेहद ही जरूरी होता है, क्योकि इसका असर गर्भ में पल रहे बच्चे पर प्रभावित करता हे। जिससे शारीरिक विकृति, फटे होंठ या जन्म के निशान होते हैं। हालांकि, इस दावे का कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है। लेकिन ये जरूर कहा जाता है कि गर्भावस्था के दौरान सूरज की किरणें गर्भवती महिला पर पड़ती है।

Read More: दीपों से जगमगा उठी रामलला की नगरी, PM मोदी ने किया श्री राम का राज्याभिषेक 

1. सूर्य ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाओं घर से बाहर नहीं निकलना चाहिए। इस दौरान सूर्य की किरणें गर्भ में पल रहे बच्चे को नुकसान पहुंचा सकता है।

Read More: लड़ाकू विमान साइबेरिया में एक इमारत पर गिरा, दो पायलटों की मौत

2. वहीं सूर्य ग्रहण के दौरान महिलाओं को किसी भी प्रकार की नुकीली वस्तुओं का प्रयोग नहीं करना चाहिए। ऐसा कहा जाता है कि अगर प्रेग्नेंट महिलाएं सूर्य ग्रहण या सूतक काल के दौरान किसी नुकीली चीज जैसे- चाकू या कैंची का इस्तेमाल करती है तो बच्चे के शरीर पर असर पड़ता है और बच्चा अपंग या फिर किसी अंग से विकृत हो सकता है।

Read More: पटाखे की दुकानों में लगी भीषण आग, दो लोगों की मौत, मची अफरातफरी

3. सूर्य ग्रहण के दौरान किसी भी गर्भवती महिलाओं को सिलाई-कढ़ाई का काम नहीं करना चाहिए। यह बच्चे और मां दोनों के लिए हानिकारक हो सकता है।

4. कहा जाता है कि सूर्य ग्रहण के दौरान सूरज की किरणें ज्यादा तीक्ष्ण होती हैं। जिन्हें नग्न आंखों से देखना नुकसानदायक हो सकता है, इसलिए ग्रहण के दौरान विशेष चश्मे पहने जाते हैं। गर्भवती महिलाओं के लिए तो कहा जाता है कि उन्हें सूर्य ग्रहण के दौरान सूरज को बिल्कुल भी नहीं देखना चाहिए। उन्हें घरों के खिड़की-दरवाजे भी पूरी तरह से बंद रखने चाहिए।

5. इस बार सूर्य ग्रहण का समय ज्यादा देर नहीं है तो कोशिश करें कि गर्भवती महिलाएं इस दौरान कुछ खाए ना। लेकिन सूतक काल के दौरान वह कुछ खा सकती हैं लेकिन फलों या सब्जियों को काटने से बचना चाहिए। इस दौरान बासी खाना खाने से बचें।

6. ग्रहण खत्म होने के बाद, गर्भवती महिलाओं को सूर्य ग्रहण के नकारात्मक प्रभावों से बचने के लिए स्नान करना चाहिए।

देश दुनिया की बड़ी खबरों के लिए यहां करें क्लिक

 
Flowers