पिछड़ने के बाद गेंदबाजों ने भारत ए को वापसी दिलाई

पिछड़ने के बाद गेंदबाजों ने भारत ए को वापसी दिलाई

Edited By: , December 2, 2021 / 09:44 PM IST

ब्लोमफोंटेन, दो दिसंबर (भाषा) इशान पोरेल की अगुआई में गेंदबाजों के दमदार प्रदर्शन की बदौलत भारत ए ने दूसरे अनौपचारिक क्रिकेट टेस्ट के मौसम से प्रभावित तीसरे दिन पहली पारी में पिछड़ने के बाद वापसी करते हुए दूसरी पारी में दक्षिण अफ्रीका ए का स्कोर पांच विकेट पर 116 रन कर दिया।

पोरेल ने 17 रन पर दो विकेट चटकाए। बाबा अपराजित ने एक जबकि सौरभ कुमार ने 34 रन देकर एक-एक विकेट हासिल किया।

बारिश और खराब रोशनी के कारण जब दिन का खेल खत्म किया गया तब टोनी डि जॉर्जी नौ रन बनाकर खेल रहे थे जबकि जॉर्ज लिंडे ने अभी खाता नहीं खोला है।

पहली पारी में 21 रन की बढ़त हासिल करने वाले दक्षिण अफ्रीका ए की कुल बढ़त 137 रन की हो गई है।

भारत ए की टीम ने पहली पारी में 276 रन बनाए। हनुमा विहारी ने 54 जबकि सरफराज खान ने नाबाद 71 रन की पारी खेली। दक्षिण अफ्रीका ए ने पहली पारी में 297 रन बनाए थे।

दक्षिण अफ्रीका ए की ओर से ग्लेंटन स्टुरमैन ने 48 रन देकर चार जबकि मार्को जेनसन ने 44 रन देकर तीन विकेट चटकाए।

दूसरी पारी में सेरेल इर्वी (41) और कप्तान पीटर मलान (31) ने पहले विकेट के लिए 69 रन जोड़कर दक्षिण अफ्रीका ए को तेज शुरुआत दिलाई। बायें हाथ के स्पिनर सौरभ ने 17वें ओवर में इर्वी को पोरेल के हाथों कैच कराके इस साझेदारी को तोड़ा। इर्वी ने 54 गेंद का सामना करते हुए छह चौके मारे।

कप्तान मलान 25वें ओवर में रेनार्ड वान टोंडर (33) के साथ गलतफहमी का शिकार होकर रन आउट हुए।

एक ओवर बाद अपराजित ने जुबैर हमजा को पवेलियन भेजा जो खाता भी नहीं खोल पाए।

पोरेल ने टोंडर और सिनेथेंबा केशिले (00) को लगातार ओवरों में आउट किया जिससे दक्षिण अफ्रीका ए का स्कोर एक विकेट पर 98 रन से पांच विकेट पर 115 रन हो गया।

इसके बाद खराब रोशनी के कारण खेल रोकना पड़ा और फिर बारिश भी आ गई जिसके कारण खेल दोबारा शुरू नहीं हो सका।

इससे पहले भारत ए की टीम सुबह पांच विकेट पर 198 रन से आगे खेलने उतरी। हनुमा ने 45 रन से आगे खेलते हुए अपना अर्धशतक पूरा किया लेकिन जेनसन की गेंद पर विकेटकीपर केशिले को कैच दे बैठे। उन्होंने 164 गेंद का सामना करते हुए आठ चौके मारे।

कल के दूसरे नाबाद बल्लेबाज सरफराज ने 30 रन से आगे खेलते हुए आक्रामक तेवर दिखाए। उन्हें सौरभ (23) के रूप में उम्दा जोड़ीदार मिला। दोनों ने सातवें विकेट के लिए 41 रन जोड़े।

स्टुरमैन ने सौरभ को आउट करके इस साझेदारी को तोड़ा और फिर नवदीप सैनी (01) को बोल्ड किया। अर्जन नागवासवाला खाता खोले बिना रन आउट हुए।

सरफराज ने इस बीच अर्धशतक पूरा किया लेकिन लिंडे ने पोरेल (00) को डि जॉर्जी के हाथों कैच कराके भारतीय पारी का अंत कर दिया। सरफराज ने 94 गेंद की अपनी पारी में आठ चौके और दो छक्के मारे।

भाषा सुधीर पंत

पंत