सिंधू का स्वर्ण पदक का सपना टूटा, कांस्य के लिये बिंग जियाओ से भिड़ेगी

सिंधू का स्वर्ण पदक का सपना टूटा, कांस्य के लिये बिंग जियाओ से भिड़ेगी

Edited By: , July 31, 2021 / 05:09 PM IST

तोक्यो, 31 जुलाई (भाषा) भारतीय बैडमिंटन स्टार पी वी सिंधू का तोक्यो ओलंपिक खेलों में स्वर्ण पदक जीतने का सपना शनिवार को यहां चीनी ताइपै की विश्व में नंबर एक ताइ जु यिंग के हाथों सीधे गेम में हार के साथ ही टूट गया।

रियो ओलंपिक की रजत पदक विजेता सिंधू ने ताइ जु को पहले गेम में कड़ी चुनौती पेश की लेकिन आखिर में उन्हें 40 मिनट तक चले मैच में 18-21, 12-21 से हार का सामना करना पड़ा।

सिंधू के पास अब ओलंपिक में दो व्यक्तिगत पदक जीतने वाली पहली भारतीय खिलाड़ी बनने का मौका है। वह रविवार को कांस्य पदक के लिये चीन की ही बिंग जियाओ से भिड़ेगी जिन्हें हमवतन चेन यू फेई ने पहले सेमीफाइनल में 21-16, 13-21, 21-12 से हराया था।

इन दोनों खिलाड़ियों के बीव सेमीफाइनल से पहले 18 मैच खेले गये थे जिनमें ताइ जु ने 13 मैच जीते थे और उन्होंने अपने इस दबदबे को शनिवार को भी बरकरार रखा। चीनी ताइपै की खिलाड़ी को हालांकि शुरू में लय हासिल करने में थोड़ा समय लगा लेकिन भारतीय खिलाड़ी उन पर दबाव नहीं बना पायी।

ताइ जु ने शुरुआती गेम में पहले दो अंक बनाये लेकिन इसके बाद सिंधू अधिक आक्रामक दिखी और उन्होंने लगातार पांच अंक बनाकर स्कोर 5-2 से अपने पक्ष में कर दिया। सिंधू ने इस बीच नियंत्रित खेल दिखाया और अपनी पहुंच का अच्छा इस्तेमाल किया।

दोनों खिलाड़ियों ने करारे स्मैश और चतुरता से भरे ड्राप शॉट का अच्छा नजारा दिखाया। सिंधू ने 8-4 के स्कोर पर शॉट बाहर खेलकर ताइ जु को अंक दिया लेकिन भारतीय खिलाड़ी इंटरवल तक 11-8 से आगे रही।

ताइ जु ने इसके बाद लगातार तीन अंक बनाकर स्कोर 11-11 से बराबर किया। इसके बाद दोनों ने एक दूसरे को 18-18 के स्कोर तक बराबरी की टक्कर दी लेकिन चीनी ताइपै की खिलाड़ी ने यहां से लगातार तीन अंक बनाकर ताकतवर स्मैश से पहला गेम अपने नाम किया।

दूसरे गेम के शुरू में सिंधू आगे थी लेकिन ताइ जु ने बेहतरीन ड्राप शॉट से स्कोर 4-4 से बराबर किया और लगातार चार अंक के साथ 7-4 से बढ़त हासिल कर दी। भारतीय खिलाड़ी ने अपनी तरफ से अच्छे प्रयास किये लेकिन ताइ जु ने उन्हें कोर्ट पर काफी छकाया और इंटरवल तक 11-7 की बढ़त बनाकर सिंधू को दबाव में ला दिया।

ताइ जु ने इसके बाद भी अपना दबदबा बरकरार रखा। सिंधू ने करारे स्मैश से स्कोर 8-13 किया लेकिन ताइ जु ने लगातार तीन अंक बनाये और फिर आठ मैच प्वाइंट में से पहले पर ही मैच अपने नाम किया।

छठी वरीयता प्राप्त सिंधू ने शुक्रवार को क्वार्टर फाइनल में जापान की विश्व में पांचवें नंबर की अकाने यामागुची को हराया था।

इससे पहले पुरुष एकल में बी साई प्रणीत तथा चिराग शेट्टी और सात्विकसाइराज रंकीरेड्डी की पुरुष युगल जोड़ी नाकआउट में जगह बनाने में नाकाम रही थी।

भाषा

पंत नमिता

नमिता