थाने में शौचालय नहीं, महिला कर्मचारी आस -पास निस्तार करने मजबूर | Anuppur News

थाने में शौचालय नहीं, महिला कर्मचारी आस -पास निस्तार करने मजबूर

थाने में शौचालय नहीं, महिला कर्मचारी आस -पास निस्तार करने मजबूर

: , March 25, 2021 / 10:10 PM IST

अनूपपुर।  जिले को वर्ष 2003 में नया बनाया गया था लेकिन यहां का विकास कितना हुआ वह इसी बात से समझ में आता है जब रोजाना सैकड़ों की तादात पर महिला फरियादी अपनी फरियाद लेकर थाने पहुंची हैं और वह भी शौचालय जैसे अनिवार्य जरूरत की भी पूर्ति नहीं हो रही है। ज्ञात हो कि अनूपपुर जिले में 9 थाने दो चौकी वर्तमान में है लेकिन यहां पर 12 थानों को छोड़ किसी भी थाने में महिलाओं के लिए शौचालय तक नहीं है जिससे महिला कैदी सहित महिला कर्मचारियों को भी शौच के लिए वैकल्पिक व्यवस्था के सहारे ही निस्तार करना पड़ता है। 

ये भी पढ़े –जब आईपीएस बेटा कांस्टेबल पिता के थाने में ही हुआ पदस्थ, गर्व से पिता ने किया सैल्यूट

एक तरफ सरकार गांव को शौच से मुक्त घोषित करने में लगी है तो दूसरी ओर अनूपपुर जिले के इन थानों में शौचालय को लेकर दयनीय स्थिति बनी है यहां पर महिलाओं के लिए शौचालय तो नहीं है तो दूसरी ओर पुरुषों के लिए बनाए गए शौचालय भी झज्जर स्थिति में देखे जा सकते हैं लेकिन इसकी सुध व परवाह करने वाला कोई नजर नहीं आता। 

ये भी पढ़े –दिल्ली की हवा में घुलने लगा जहर, केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने दी चेतावनी

 अनूपपुर जिले के कप्तान तिलक सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि हर वर्ष विभाग को पत्राचार किया जाता है की अनूपपुर जिले में शौचालय के लिए फंड दिए जाएं लेकिन ऊपर से ही फंड ना आने के कारण अभी तक सभी थानों में महिलाओं के लिए अलग से शौचालय नहीं बनाएगए हैं जैसे ही ऊपर से फंड आता है जल्द ही शौचालय का निर्माण करा दिया जाएगा गौरतलब है कि अनूपपुर जिले की जनसंख्या 8 लाख से ऊपर है और रोजाना हजारों की तादात पर फरियादी अपनी फरियाद लेकर थाने पहुंचते हैं लेकिन इन्हें शौचालय के लिए वैकल्पिक व्यवस्था करनी पड़ती है। 

वेब डेस्क IBC24

 

#HarGharTiranga