Chhattisgarh tribal girl riya ekka wins Miss india competition

छत्तीसगढ़ की आदिवासी बेटी रिया एक्का ने जीता Miss India का खिताब, देशभर में राज्य का नाम किया रौशन

Riya Ekka Wins miss india competition: जशपुर की रिया एक्का ने भिलाई में आयोजित मिस इंडिया कॉम्पिटीशन में भाग लेकर खिताब अपने नाम कर लिया है।

Edited By: , November 29, 2022 / 08:18 PM IST

Riya Ekka Wins miss india competition: बिलासपुर। छत्तीसगढ़ में सच में हुनर की कोई कमी नहीं है। यहां के लोगों ने देश-दुनिया में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया है। इसी कड़ी में अब एक बार फिर जशपुर की आदिवासी स्टूडेंट रिया एक्का ने भिलाई में आयोजित ग्लैमर इवेंट में मिस इंडिया का खिताब जीत लिया। रिया मूलत: जशपुर जिले की रहने वाली हैं और बिलासपुर में रहकर कॉलेज की पढ़ाई कर रही हैं। रिया एक्का ने प्रतियोगिता में कुल 50 प्रतिभागियों को हराकर मिस इंडिया का खिताब अपने नाम कर लिया।

रिया जशपुर जिले के बगीचा क्षेत्र के डगडऊवा गांव की रहने वाली 19 वर्षीय रिया एक्का कॉलेज स्टूडेंट है और बिलासपुर के सरकंडा में रहकर पढ़ाई करती है। बचपन से ही रिया की रूचि पढ़ाई के साथ-साथ फैशन में भी रही है। अब वह फैशन के साथ ही मॉडलिंग और एक्टिंग की दुनिया में नाम कमाना चाहती हैं।

रह चुकी हैं मिस इंडिया

Riya Ekka Wins miss india competition: रिया एक्का प्रयास पब्लिक स्कूल से 12वीं पास करने के बाद बिलासपुर में निजी कॉलेज में पढ़ती है। उसे शुरू से ही मॉडलिंग और एक्टिंग का शौक है। वह पहले भी कई एल्बम में काम कर चुकी है। साल 2020 में रिया एक्का मिस सरगुजा चुनी जा चुकी है।

50 प्रतिभागियों को दी मात

Riya Ekka Wins miss india competition: रिया ने बताया कि इस फैशन और मॉडल इवेंट में उसके अलावा 50 प्रतिभागी शामिल हुईं थीं। कैटवॉक रैंप में रिया ने अपनी स्टाइल और पैशन से आयोजकों का दिल जीत लिया।

कम्पीटिशन में ये थे जजेस

Riya Ekka Wins miss india competition: इस प्रतियोगिता का आयोजन ग्लैमर प्रोडक्शन के बैनर तले हुआ, इसमें बतौर जज एक्टर, मॉडल और रियालिटी शो के विनर प्रिंस नरूला, एक्ट्रेस युविका चौधरी, एक्टर व्योमेश कॉल और रोडीज विनर, एक्टर और मॉडल अरुण शर्मा मौजूद रहे। जिन्होंने रिया को यह खिताब दिया।

आर्मी में मेजर हैं पिता, मां हैं पंचायत सचिव

Riya Ekka Wins miss india competition: रिया एक्का ऐसे क्षेत्र से आती है, जहां आज भी रूढ़ीवादी परंपरा के लोग रहते हैं और लड़कियां घर से बाहर निकलकर कुछ करने की सोच भी नहीं सकती। दरअसल, इस आदिवासी इलाके में सबसे ज्यादा ह्यूमन ट्रैफिंकिंग भी होती है। ऐसे में रिया को अपने परिवार और खासकर माता-पिता का भरपूर सपोर्ट मिला। उनके पिता आर्मी में मेजर है और मां ग्राम पंचायत की सचिव हैं।

IBC24 की अन्य बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें