कुआं हादसा: प्रधानमंत्री ने मृतकों के परिवार को दो-दो लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की

कुआं हादसा: प्रधानमंत्री ने मृतकों के परिवार को दो-दो लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की

: , July 17, 2021 / 08:05 AM IST

भोपाल, 17 जुलाई (भाषा) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मध्यप्रदेश में कुएं में कई लोगों के गिरने की घटना में मारे गए लोगों के परिजनों को दो-दो लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी इस घटना पर दुख जताया है।

मध्यप्रदेश में विदिशा जिले में बृहस्पतिवार शाम को कुएं की मुंडेर व छत ढहने से कुएं में गिरे कई लोगों में से 11 लोगों की मौत हो गई जबकि 19 लोगों को राहत अभियान के बाद जिंदा बाहर निकाल लिया गया।

प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) से शुक्रवार देर रात को जारी एक ट्वीट में प्रधानमंत्री मोदी के हवाले से कहा गया, ‘‘ मध्यप्रदेश में विदिशा में हुई त्रासदी से दुखी हूं। शोक संतप्त परिवारों के प्रति मेरी संवेदना। प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष (पीएमएनआरएफ) से दो लाख रुपये की अनुग्रह राशि उन लोगों के परिजन को दी जाएगी जिनकी इस हादसे में जान गई।’’

राष्ट्रपति भवन ने शनिवार सुबह कोविंद के हवाले से ट्वीट किया, ‘‘ मध्यप्रदेश के विदिशा में हुए हादसे में अनेक लोगों की मृत्यु के हृदय विदारक समाचार से अत्यंत दु:ख हुआ। मैं, दुर्घटना में फंसे लोगों के बचाव के प्रयासों की सफलता की कामना करता हूं और शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं।’’

शुक्रवार को मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने घोषणा की थी कि मृतकों के परिजनों को पांच लाख रुपये की आर्थिक सहायता दी जाएगी तथा घायलों को 50-50 हजार रुपये और मुफ्त चिकित्सा प्रदान की जाएगी।

विदिशा जिले के गंजबासौदा के पास लाल पठार गांव में बृहस्पतिवार रात पानी भरते समय एक किशोर कुएं में गिर गया। किशोर को बचाने और माजरा देखने के लिए कई लोग कुएं की मुंडेर और छत पर जमा हो गए। इसके बाद मुंडेर और छत के ढह जाने से कई लोग मलबे सहित कुएं में गिर गए। हालात और बदतर हो गए जब राहत कार्य में लगा एक ट्रैक्टर चार पुलिसकर्मियों के साथ देर रात को उसी कुएं में गिर गया।

हादसे के बाद करीब 24 घंटे तक चले बचाव अभियान में शुक्रवार देर रात तक कुएं से 11 शव बरामद किए गए और 19 लोगों को जिंदा निकाला गया।

स्थानीय लोगों ने बताया कि कुआं करीब 50 फीट गहरा है और उसमें लगभग 20 फीट पानी था।

भाषा दिमो पवनेश स्नेहा प्रशांत

प्रशांत

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)