ताजमहल में गुपचुप तरीके से नमाज पढ़ रहे थे 4 पर्यटक, हैदराबाद से आए थे आगरा

ताजमहल में गुपचुप तरीके से नमाज पढ़ रहे थे 4 पर्यटक, हैदराबाद से आए थे आगरा : 4 tourists were secretly offering Namaz in Taj Mahal

Edited By: , May 26, 2022 / 10:05 PM IST

आगरा (भाषा) आगरा स्थित विश्व प्रसिद्ध ताजमहल परिसर में मौजूद ताज मस्जिद में कथित रूप से बिना अनुमति नमाज पढ़ने के आरोप में चार पर्यटकों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी। उल्लेखनीय है कि स्मारक के रखरखाव की जिम्मेदारी संभाल रहे भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) ने परिसर में केवल शुक्रवार को नमाज पढ़ने की अनुमति दी है। ताजगंज पुलिस थाने के निरीक्षक इंसपेक्टर भूपेंद्र बालियान ने बृहस्पतिवार को बताया कि घटना बुधवार शाम की है और गिरफ्तार चारों पर्यटकों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा-153 (दंगा भड़काने की मंशा से उकसाना)के तहत कार्रवाई की गई है।

Read more : नारकोटिक्स टीम की बड़ी कार्रवाई, 100 करोड़ की हेरोइन के साथ युवती गिरफ्तार

सूत्रों ने बताया कि परिसर की सुरक्षा की जिम्मेदारी संभाल रहे सीआईएसएफ के जवानों ने बुधवार को ताजमहल परिसर स्थित ताज मस्जिद में जिन चार पर्यटकों को नमाज पढ़ते पकड़ा है, उनमें से तीन हैदराबाद के हैं जबकि एक प्रदेश के ही आजमगढ़ जिले का निवासी है। सीआईएसएफ ने चारों को ताजगंज थाने की पुलिस को सौंप दिया। एएसआई के अधीक्षण पुरातत्वविद् राजकुमार पटेल ने बताया कि केवल शुक्रवार को ही ताजमहल परिसर में नमाज की अनुमति है।

Read more :  पहले मेरे पति की हत्या करो फिर करना निकाह…प्रेमिका की डिमांड पर प्रेमी ने उसके पति को उतारा मौत के घाट

उन्होंने बताया कि नियमानुसार ताजमहल शुक्रवार को पर्यटकों के लिए बंद रहता है, लेकिन यहां स्थित मस्जिद में नमाज पढऩे वालों के लिए दोपहर दो बजे तक स्मारक को खोला जाता है। एएसआई के मुताबिक ताजमहल की मस्जिद में केवल शुक्रवार को ही नमाज की अनुमति है और वह भी ताजगंज के स्थानीय लोगों को। बालियान ने बताया कि चारों युवक पुलिस हिरासत में हैं, उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जा रही है। वहीं, कुछ लोगों का कहना है कि ताज मस्जिद में नमाज पर रोक की जानकारी कुछ दिन पहले तक नहीं सुनी गई थी।

Read more :  ‘बोल्ड’ फोटोशूट कराने इस एक्ट्रेस ने कैमरे के सामने खोले शर्ट के बटन, बढ़ाया इंटरनेट का पारा 

ताजमहल स्थित इंतजामिया कमिटी के अध्यक्ष इब्राहिम जैदी ने कहा, ‘‘ताजमहल स्थित मस्जिद में नियमित रूप से नमाज पढ़ी जा रही थी। लेकिन कुछ दिन पहले एएसआई ने दावा किया कि उच्चतम न्यायालय के आदेश के अनुसार मस्जिद परिसर में शुक्रवार को छोड़कर नमाज पढ़ने पर रोक है।’’ जैदी ने कहा कि कमिटी ने एएसआई से रोक की जानकारी सबूत के साथ लिखित में देने और बोर्ड लगाकर पर्यटकों को इस संबध में सूचना देने की मांग की है। गिरफ्तार पर्यटकों के साथ मौजूद लखनऊ के टूरिस्ट गाइड विनोद दीक्षित ने दावा किया कि आरोपियों को नमाज पर रोक की जानकारी नहीं थी।