चुनावी बॉण्ड खुलासे से घबरायी भाजपा कर रही ध्यान भटकाने की कोशिश : केजरीवाल की गिरफ्तारी पर अखिलेश |

चुनावी बॉण्ड खुलासे से घबरायी भाजपा कर रही ध्यान भटकाने की कोशिश : केजरीवाल की गिरफ्तारी पर अखिलेश

चुनावी बॉण्ड खुलासे से घबरायी भाजपा कर रही ध्यान भटकाने की कोशिश : केजरीवाल की गिरफ्तारी पर अखिलेश

:   Modified Date:  March 22, 2024 / 03:26 PM IST, Published Date : March 22, 2024/3:26 pm IST

सीतापुर (उप्र), 22 मार्च (भाषा) समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भ्रष्टाचार के मामले में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी को चुनावी बॉण्ड को लेकर हुए खुलासे से घबराई भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की मुद्दों से ध्यान भटकाने की कोशिश करार देते हुए शुक्रवार को कहा कि भाजपा चाहे जितने नेताओं को जेल भेज दे, लेकिन जनता को जेल नहीं भेज सकती जो आगामी लोकसभा चुनाव में उसे सबक सिखायेगी।

यादव यहां विभिन्न आपराधिक मामलों में मिली सजा के तहत सीतापुर जेल में बंद वरिष्ठ सपा नेता एवं पूर्व मंत्री आजम खां से मुलाकात करने आये थे।

उन्होंने संवाददाताओं से बातचीत में एक सवाल पर केजरीवाल की गिरफ्तारी की तरफ इशारा करते हुए कहा, ”चुनावी बॉण्ड के खुलासे ने भाजपा का बैंड बजा दिया है। क्या भाजपा के लोगों को चुनावी बॉण्ड का फायदा नहीं मिला? घबराहट में अपना मुद्दा बदलने का यह जो तरीका है उसमें भाजपा कामयाब नहीं होगी। यह चाहे जितने भी नेताओं को जेल भेज दें, लेकिन जनता को जेल नहीं भेज सकते। जनता इनको सबक सिखाएगी।”

यादव ने कहा, ”क्या देश यह स्वीकार करेगा कि झूठे मुकदमे चला कर लोगों को जेल भेज दें? जुल्म करने वाला कितना भी जुल्म करे, लेकिन अंत में सच्चाई की ही जीत होगी।”

उन्होंने कहा, ”केवल मुख्यमंत्री को जेल भेजने से, खबरों को नियंत्रित करने से लोकतंत्र में उनकी (भाजपा की) जीत नहीं होने वाली है। यह लोग लोकतंत्र को कमजोर कर रहे हैं। लोकतंत्र में जो आवाज उठाना चाहते हैं, सरकार उनकी आवाज दबाना चाहती है।”

यादव ने कहा, ”पीडीए (पिछड़े, दलित और अल्पसंख्यक) ही राजग (भाजपा नीत राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन) को हराएगा और सरकार पीडीए से घबराई हुई है। समय से ज्यादा बलवान कोई नहीं है और जब समय आएगा तब भाजपा को भी जनता सबक सिखाएगी।”

सपा नेता आजम खां का जिक्र करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि खां के साथ लगातार अन्याय हो रहा है मगर उन्हें उम्मीद है कि खां और उनके परिवार को न्याय मिलेगा।

उन्होंने विभिन्न आरोपों में सजायाफ्ता आजम खां, उनकी पत्नी तजीन फातिमा और बेटे अब्दुल्ला को अलग—अलग जेलों में रखे जाने को सरकार की ‘अमानवीय गतिविधि’ करार दिया।

उन्होंने कहा, ”यह भी सरकार की अमानवीय गतिविधि है कि परिवार को सजा मिली लेकिन जेल में वह एक साथ नहीं हैं। क्या सरकार यही तकलीफ और परेशानी देना चाहती है और वह भी झूठे मुकदमे लगाकर?”

यादव ने कहा, ”भाजपा दुनिया में सबसे बड़ी पार्टी होने का दावा करती है लेकिन लग रहा है कि भाजपा झूठे मुकदमे दर्ज करने का वर्ल्ड रिकॉर्ड नहीं, बल्कि ब्रह्मांड रिकॉर्ड बना रही है।”

सपा प्रमुख ने एक सवाल पर कहा कि उनकी आजम खां से रामपुर लोकसभा सीट के टिकट को लेकर भी चर्चा हुई है। हालांकि उन्होंने इस बारे में विस्तार से कुछ नहीं बताया।

पूर्व मुख्यमंत्री ने दावा किया कि उत्तर प्रदेश में विभिन्न भर्तियों के सबसे ज्यादा पेपर लीक हुए हैं। उन्होंने कहा, ”भाजपा की प्रदेश सरकार ने 60 लाख बच्चों का भविष्य छीना है। उन्हें और उनके माता-पिता को मिला लें तो एक करोड़ 80 लाख वोट होते हैं। अगर हम उसे 80 (उत्तर प्रदेश में लोकसभा सीटों की संख्या) से भाग देते हैं तो हर लोकसभा क्षेत्र में भाजपा के सवा दो लाख वोट कम हुए हैं। जिस दल के, एक लोकसभा क्षेत्र में सवा दो लाख वोट कम हो जाएं, तो सोचिये वह कितनी घबराई हुई होगी।”

लोकसभा चुनाव में ‘इंडियन नेशनल डेवलपमेंटल इन्क्लूसिव अलायंस’ (इंडिया) के तहत उत्तर प्रदेश में एक भी सीट नहीं मिलने से नाराज अपना दल (कमेरावादी) की नेता पल्लवी पटेल के एक बयान के बारे में पूछे गए सवाल पर सपा अध्यक्ष ने कहा, ”साथ छोड़ने वालों की कहानी बहुत लंबी है और आपसे बेहतर कोई नहीं जानता कि कोई क्यों साथ छोड़ रहा है।”

भाषा सलीम नरेश मनीषा

मनीषा

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Flowers