भाजपा जैसी बड़ी पार्टी से लड़ना हैं तो बहुत तैयारी करनी होगी : अखिलेश यादव |

भाजपा जैसी बड़ी पार्टी से लड़ना हैं तो बहुत तैयारी करनी होगी : अखिलेश यादव

भाजपा जैसी बड़ी पार्टी से लड़ना हैं तो बहुत तैयारी करनी होगी : अखिलेश यादव

:   December 4, 2023 / 10:08 PM IST

लखनऊ, चार दिसंबर (भाषा) विपक्ष के मध्य प्रदेश में भाजपा को चुनाव जीतने से रोकने में विफल रहने पर समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सोमवार को कहा कि जो पार्टियां भारतीय जनता पार्टी जैसी बड़ी पार्टी से लड़ना चाहती हैं, उन्हें बहुत तैयारी करनी होगी और अनुशासन में रहना होगा। उन्होंने कहा कि नतीजे जो भी होंगे, राजनीतिक दल उन्हें स्वीकार करेंगे।

अखिलेश यादव ने सोमवार को वाराणसी में कहा,” राजनीति में हम लोग निराश नहीं हैं, लोकतंत्र में ऐसे परिणाम आते रहते हैं। मान लीजिए जिस लोकसभा क्षेत्र में मैं बैठा हूं, वहां पांच लाख वोटों से भारतीय जनता पार्टी जीत जाती है। इसका मतलब यह नही है कि सबका साथ, सबका विकास और सबका सम्मान हो रहा हो। अभी भी बहुत सारे ऐसे लोग हैं, जो निराश हैं। जिन्हें उम्मीद थी, उनकी उम्मीद टूटी है।”

उन्होंने कहा, ‘राजनीति में परिणाम आते हैं और जो भी परिणाम आयेंगे, कोई भी राजनीतिक दल हो, उन्हें वह स्वीकार करेगा । लेकिन लड़ाई लंबी है, जिन लोगों को भारतीय जनता पार्टी जैसी बड़ी पार्टी से मुकाबला करना है, उन्हें बहुत तैयारी करनी पड़ेगी । बहुत अनुशासन में रहकर उन चीजों का मुकाबला करना पड़ेगा। हमें उम्मीद है कि आने वाले समय में परिणाम भिन्न होंगे ।”

अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी पार्टी बेरोजगारी, महंगाई और किसान हित के मुद्दों पर आगामी लोकसभा का चुनाव लड़ेगी।

इस दौरान उन्होंने ‘हर घर बेरोजगार, मांगे रोजगार’ नारा देते हुए कहा कि इस नारे के साथ समाजवादी पार्टी आगामी लोकसभा चुनाव के लिए जनता के बीच जाएगी।

अखिलेश यादव ने कहा ,‘‘ लोकसभा चुनाव के लिए कार्यकर्ता तैयार रहें, हम सर्वाधिक सीटों पर चुनाव लड़ेंगे और जीतेंगे।’’

उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार रोजगार बांटने का सिर्फ नाटक कर रही है, नौकरी मिलने वाले लोगों की यदि पड़ताल कर ली जाय तो हकीकत सामने आ जायेगी।

कांग्रेस के साथ गठबंधन पर सपा प्रमुख ने कहा कि मध्यप्रदेश में गठबंधन को लेकर बात बन नहीं पायी क्योंकि मध्यप्रदेश की परिस्थितियां अलग थी, लेकिन लोकसभा चुनाव में क्या स्थिति बनेगी यह आने वाला वक्त ही बताएगा।

उधर, बलिया में समाजवादी पार्टी के महासचिव शिवपाल सिंह यादव ने तीन राज्यों के चुनाव परिणाम को लेकर सोमवार को कहा है कि चुनाव परिणाम से कांग्रेस को सबक लेना चाहिए ।

उन्होंने बसपा के साथ मिलकर चुनाव लड़ने के सवाल पर कहा है कि बसपा सुप्रीमो मायावती पहले भाजपा से दूरियां बनाएं ।

शिवपाल यादव ने सोमवार को अपरान्ह जिले के सहतवार कस्बे में संवाददाताओं से बातचीत करते हुए कहा है कि चुनाव परिणाम से कांग्रेस को सबक लेना चाहिए ।

शिवपाल यादव ने तीन राज्यों के चुनाव परिणाम को लेकर कहा ,‘‘इससे कांग्रेस को सबक लेना चाहिए । सभी को सबक लेना चाहिए। लोकसभा चुनाव 2024 के लिए इंडिया गठबंधन को मजबूत करके ही चुनाव लड़ना चाहिए। हमारे सभी लोग समीक्षा करेंगे । ’’

सपा नेता ने इसके साथ ही कहा है कि जो भी परिणाम आया है , जनादेश है, उसे सबको स्वीकार करना पड़ेगा ।

उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि ‘इंडिया’ गठबंधन लोकसभा चुनाव 2024 के लिए बना है, ऐसे में सभी राष्ट्रीय नेता बातचीत करेंगे और चुनाव की तैयारी करेंगे ।

यह पूछे जाने पर कि क्या बसपा को साथ लिए बगैर उत्तर प्रदेश में भाजपा को शिकस्त दी जा सकती है, इस सवाल के ज़बाब में यादव ने कहा ,‘‘ बसपा सुप्रीमो मायावती पहले भाजपा से दूरियां बनाएं । ’’

उन्होंने इसके साथ ही कहा कि सपा उत्तर प्रदेश में भाजपा को हराने में सक्षम है।

भाजपा ने रविवार को मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस को करारी शिकस्त देकर हिंदी पट्टी में अपनी पकड़ मजबूत कर ली, जिससे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का कद काफी बढ़ गया और 2024 के लोकसभा चुनावों के लिए माहौल तैयार हो गया।

मध्य प्रदेश में 69 सीट पर चुनाव लड़ने वाली समाजवादी पार्टी एक भी सीट नहीं जीत सकी ।

अखिलेश यादव ने मध्य प्रदेश में सपा उम्मीदवारों के लिए रैलियां की थीं और प्रचार किया था ।

भाषा सं अभिनव जफर राजकुमार

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Flowers