जिस कोरोना वैक्सीन को भारत ने दी अनुमति उस पर अमेरिका ने लगाई रोक, जो बाइडन ने कहा- हम सुरक्षा को प्राथमिकता देते हैं

जिस कोरोना वैक्सीन को भारत ने दी अनुमति उस पर अमेरिका ने लगाई रोक, जो बाइडन ने कहा- हम सुरक्षा को प्राथमिकता देते हैं

Edited By: , April 14, 2021 / 08:52 AM IST

वाशिंगटन, 14 अप्रैल । राष्ट्रपति जो बाइडन के कोविड-19 टीकाकरण अभियान में उस समय रुकावट पैदा हो गई जब नियामक संस्थाओं ने जॉनसन एंड जॉनसन (जे एंड जे) के टीके पर रोक लगा दी, लेकिन व्हाइट हाउस ने इस कार्रवाई को अभियान के दौरान बरती जा रही सावधानी की पुष्टि के तौर पर दर्शाया है।
Read More: महिला से अवैध संबंध पुलिसकर्मी को पड़ गया भारी, परिजनों ने दिनदहाड़े कर दी जमकर धुनाई

बाइडन ने मंगलवार को कहा कि जॉनसन एंड जॉनसन के एक खुराक वाले टीके पर अस्थायी तौर पर लगी रोक के बावजूद फाइजर और मॉडर्ना टीके प्रचुर मात्रा में उपलब्ध हैं जो “प्रत्येक अमेरिकी के लिए सौ प्रतिशत उपयुक्त हैं।”

वाइट हाउस की प्रेस वार्ता में बाइडन के उच्च स्वास्थ्य अधिकारियों ने कहा कि जॉनसन एंड जॉनसन के टीके पर लगी रोक का यह असर होगा कि लोगों में विश्वास पैदा होगा कि सरकार सुरक्षा को प्राथमिकता दे रही है।
Read More: पेट्रोल-डीजल, जिला प्रशासन ने जारी किया 15 से 22 अप्रैल तक लॉकडाउन का आदेश

देश के प्रख्यात संक्रामक रोग विशेषज्ञ डॉ एंथनी फॉची ने कहा कि खाद्य और औषधि प्रशासन (एफडीए) तथा रोग नियंत्रण एवं रोकथाम केंद्र (सीडीसी)से जारी किए गए परामर्श से यह सिद्ध होता है कि हम सुरक्षा को गंभीरता से लेते हैं।
Read More: CAF की 19वीं बटालियन के जवान ने खुद को मारी गोली, मौत से मचा हड़कंप

बाइडन ने अपने कार्यकाल के शुरुआती महीनों में कोरोना वायरस से मुकाबला करने को प्राथमिकता पर रखा है। इस अभियान के तहत देश के लगभग 50 प्रतिशत वयस्कों को कम से कम टीके की एक खुराक दी जा चुकी है। बता दें कि भारत में 6 विदेशी वैक्सीन को भी मंजूरी दी गई है, जिसमें जॉनसन एंड जॉनसन (जे एंड जे) की वैक्सीन भी शामिल है।