पूर्व नेता प्रतिपक्ष का कांग्रेस पर बड़ा हमला, बोले- जिस पार्टी में 45 साल बाद हो रहे चुनाव वे ना करें लोकतंत्र की बात |

पूर्व नेता प्रतिपक्ष का कांग्रेस पर बड़ा हमला, बोले- जिस पार्टी में 45 साल बाद हो रहे चुनाव वे ना करें लोकतंत्र की बात

कांग्रेस में हो रहे राष्ट्रीय अध्यक्ष चुनाव पर तंज कसते हुए कहा कि जिस पार्टी में 45 साल बाद राष्ट्रीय अध्यक्ष का चुनाव हो रहा है वे लोकतंत्र की बात करते हैं और दुहाई देते हैं।

Edited By: , November 29, 2022 / 07:54 PM IST

dharamlal kaushik attacked on congress parti: राजनांदगांव। छत्तीसगढ़ के पूर्व नेता प्रतिपक्ष एवं भाजपा के विधायक धरमलाल कौशिक राजनांदगांव जिले के एक दिवसीय प्रवास पर देर रात धर्म नगरी डोंगरगढ़ पहुंचे थे। इस दौरान डोंगरगढ़ पहुंचे पूर्व नेता प्रतिपक्ष का भाजपा के कार्यकर्ताओं एवं पदाधिकारियों ने भव्य स्वागत किया। डोंगरगढ़ में धरमलाल कौशिक ने विश्व प्रसिद्ध मां बमलेश्वरी देवी मंदिर पहुंचकर माता की विधिवत पूजा अर्चना कर प्रदेश की खुशहाली की कामना की। इस दौरान पूर्व नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने एक बार फिर भूपेश सरकार पर निशाना साधा है।

बता दें कि मीडिया से चर्चा करते हुए पूर्व नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कांग्रेस सहित सीएम भूपेश बघेल पर जमकर निशाना साधा….जहां उन्होंने कांग्रेस में हो रहे राष्ट्रीय अध्यक्ष चुनाव पर तंज कसते हुए कहा कि जिस पार्टी में 45 साल बाद राष्ट्रीय अध्यक्ष का चुनाव हो रहा है वे लोकतंत्र की बात करते हैं और दुहाई देते हैं।

read more: सोनिया गांधी ने अशोक गहलोत से मांगा इस्तीफा? मुख्यमंत्री बोले- मेरे लिए पद कोई मायने नहीं रखता

इस दौरान पूर्व नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि ‘हमारे बूथ अध्यक्ष, मंडल अध्यक्ष, जिला अध्यक्ष, प्रदेश अध्यक्ष और राष्ट्रीय अध्यक्ष का चुनाव होता है… लोकतंत्र यदि कहीं है तो वह भारतीय जनता पार्टी में है….सीएम भूपेश बघेल और कांग्रेसियों को यह बोलने का अधिकार भी नहीं है ये लोकतंत्र का गला घोटने वाले हैं।

वहीं प्रदेश में बढ़ रहे क्राइम और बिगड़ रहे ला एंड ऑर्डर पर भी पूर्व नेता प्रतिपक्ष ने कांग्रेस की प्रदेश सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि लगातार दुर्ग जिले में हत्याएं हो रही हैं… जहां महारथी लोग विद्यमान हैं मुख्यमंत्री से लेकर गृहमंत्री तक….जब मुख्यमंत्री का गृह जिला सुरक्षित नहीं है तो प्रदेश के लोग खुद को कैसे सुरक्षित महसूस करेंगे….

read more: ठाणे में कोविड-19 के 45 नए मामले, उपचाराधीन मरीजों की संख्या 340 हुई

कभी मुख्यमंत्री समीक्षा बैठक करते हैं तो कभी गृहमंत्री तो कभी चीफ सेक्रेटरी… पर उसका प्रभाव क्यों नहीं पड़ रहा है? पुलिस है वह सहमी हुई है और अपराधियों का मनोबल बढ़ता जा रहा है….बता दें कि चुनावी साल करीब आ रहा है और प्रदेश के दोनों ही प्रमुख दल के नेता बयान बाजी में आमने सामने आ चुके हैं….आरोप-प्रत्यारोप खुलकर देखने को मिल रहा है।