‘एक्साइज ड्यूटी कम करने से प्रदेश को हो रहा करोड़ों का नुकसान, सीतारमण का समझ में नहीं आया बयान’

petrol-diesel price : पेट्रोल-डीजल के दाम कम होने के बाद भी मामले में जमकर सियासत हो रही है। देश और प्रदेश की राजनीति गरमाई हुई है।

Edited By: , May 23, 2022 / 06:50 PM IST

petrol-diesel price भोपाल। पेट्रोल-डीजल के दाम कम होने के बाद भी मामले में जमकर सियासत हो रही है। देश और प्रदेश की राजनीति गरमाई हुई है। मामले में छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने पेट्रोल-डीजल के घटे दाम को लेकर बीजेपी पर जमकर निशाना साधा। केन्द्रीय मंत्री सीतारमण के ‘वेैट कम करने से राज्यों पर वित्तीय भार नहीं आएगा’ बयान पर कहा कि उनका ये बयान मुझे समझ नहीं आया।

यह भी पढ़ें: फिर शुरू हुई नान घोटाला मामले में सुनवाई, गरमाई प्रदेश की सियासत, कोर्ट ने 12 लोगों को भेजा समन

उन्होंने कहा कि केंद्र की ओर से एक्साइज ड्यूटी कम करने से प्रदेश को नुकसान हो रहा है। प्रदेश को 500 करोड़ से ज्यादा का नुकसान हो रहा है। सबसे पहले इन्हें 4 प्रतिशत सेस हटाना चाहिए। यूपीए सरकार के समय का एक्साइज ड्यूटी लागू करना चाहिए। छत्तीसगढ़ में पेट्रोल डीजल वैट टैक्स कम करने के सवाल पर कहा कि पड़ोसी राज्यों के ऐसा करने पर कदम उठाएंगे।

यह भी पढ़ें: ये प्यार है अनोखा! 4 साल तक पाई-पाई जोड़कर दिव्यांग पति ने पत्नी को गिफ्ट किया मोपेड, फिर दोनों ने की सवारी