Heavy Rain in these Areas of Chhattisgarh From Last 36 Hours

प्रदेश के इन हिस्सों में पिछले 36 घंटे से हो रही मूसलाधार बारिश, 200 से अधिक गांवों का संपर्क टूटा, मौसम विभाग ने दी चेतावनी

प्रदेश के इन हिस्सों में पिछले 36 घंटे से हो रही मूसलाधार बारिश! Heavy Rain in these Areas of Chhattisgarh From Last 36 Hours

Edited By: , August 15, 2022 / 12:16 PM IST

बस्तरः Heavy Rain in Chhattisgarh  छत्तीसगढ़ में मूसलाधार बारिश का दौर लगातार जारी है। भारी बारिश के बाद प्रदेश के कई हिस्सों में बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं। बाढ़ की स्थिति बनने के बाद कई गावों का जिला मुख्यालय से संपर्क टूट गया है। वहीं, प्रदेश के वनांचल क्षेत्र बस्तर के कई क्षेत्रों में भी मूसलाधार बारिश का दौर लगातार जारी है।

Read More: सियाचिन के बर्फीले शिखर पर गूंजा जन गण मन…, जवानों ने ऊंची चोटी पर लहराया तिरंगा

Heavy Rain in Chhattisgarh  मिली जानकारी के अनुसार नारायणपुर जिले में पिछले 36 घंटे से मूसलाधार बारिश हो रही है। भारी बारिश के चलते भानुप्रतापपुर नारायणपुर और कोंडागांव हाइवे बंद हो गया है। जबकि ओरछा मार्ग पर बारिश के चलते नदी नाले उफान पर हैं। बताया जा रहा है कि जिले के करीब 200 गांवों का संपर्क जिला मुख्यालय से टूट गया है।

Read More: आजादी के जश्न में डूबा छत्तीसगढ़, मंत्रियों और विधायकों ने ध्वजारोहण कर तिरंगे को दी सलामी

वहीं, बीजापुर जिले में भी मूसलाधार बारिश हो रही है। भारी बारिश के बाद जिले के कई नदी नाले उफान पर हैं। बारिश के चलते नेशनल हाइवे एक बार फिर बन्द हो गया हैं। बताया जा रहा है कि इंद्रावती नदी उफान पर है।

Read More: स्वतंत्रता दिवस से एक रात पहले बम धमाका, मची अफरातफरी, इतने लोगों की हो गई मौत

वहीं दूसरी ओर मौसम विभाग ने राज्य के रायगढ़, जांजगीर-चांपा, बलौदाबाजार और महासमुंद जिलों में अगले 24 घंटों में भारी से बहुत भारी वर्षा होने की संभावना है। वहीं, बिलासपुर, कोरबा, मुंगेली, गरियाबंद, रायपुर, दुर्ग और धमतरी जिलों में एक या दो स्थानों पर गरज के साथ भारी बारिश हो सकती है। बताया गया कि उत्तर बंगाल की खाड़ी में निम्न दाब क्षेत्र बनने और उसके प्रबल होने की संभावना है। इन गतिविधियों के परिणामस्वरूप 15 अगस्त तक ओडिशा, उत्तरी आंध्र प्रदेश और छत्तीसगढ़ के चार संभागों- रायपुर, दुर्ग, बस्तर और बिलासपुर में भारी बारिश होने का अनुमान है।

Read More: महाराष्ट्र सरकार ओबीसी, मराठों को आरक्षण देने के लिए प्रतिबद्ध है : मुख्यमंत्री शिंदे