देश में कुल मवेशियों में 26.फीसद विदेशी एवं सकर नस्ल के पशु हैं |

देश में कुल मवेशियों में 26.फीसद विदेशी एवं सकर नस्ल के पशु हैं

देश में कुल मवेशियों में 26.फीसद विदेशी एवं सकर नस्ल के पशु हैं

:   November 29, 2022 / 08:50 PM IST

नयी दिल्ली, 12 मई (भाषा) सरकार ने बृहस्पतिवार को कहा कि देश में करीब 26.5 फीसद विदेशी एवं संकर किस्म के मवेशी हैं जबकि 73.5 फीसद मवेशी देशी एवं अवर्गीकृत नस्ल के हैं।

केंद्रीय मात्स्यिकी, पशुपालन एवं डेयरी मंत्री पुरूषोत्तम रूपाला ने यहां 20वी पशुधन गणना के आधार पर पशुधन एवं कुक्कुट पर नस्लवार रिपोर्ट जारी की। इस मौके पर केंद्रीय मात्स्यिकी, पशुपालन एवं डेयरी राज्य मंत्री एल मुरूगन, पशुपालन विभाग के सचिव अतुल चतुर्वेदी, संयुक्त सचिव उपमन्यु बुस मौजूद थे।

रूपाला ने पशुधन को उन्नत बनने के लिए इस रिपोर्ट की अहमियत सामने रखी तथा नीति निर्धारकों एवं अनुसंधानकर्ताओं के वास्ते उसकी उपयोगिता पर बल दिया।

वर्ष 2019 के दौरान 20वें पशुधन गणना के दौरान नस्लवार यह आंकड़ा जुटाया गया था। नस्लवर पशुधन एवं कुक्कुट रिपोर्ट में 19 चयनित प्रजातियों के 184 मान्यताप्राप्त देशी/विदेशी एवं संकर नस्ल शामिल किये गये। इन 19 प्रजातियों को एनबीएजीआर द्वारा पंजीकृत किया गया है।

एक बयान में कहा गया है, ‘‘ भैंस में मुर्रा 42.8 फीसद हैं और यह आम तौर पर उत्तर प्रदेश एवं राजस्थान में पायी जाती है।’’

भाषा राजकुमार उमा

उमा

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Flowers