दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री का बड़ा बयान, बोले- टेस्ट बढ़ाना है तो ICMR अपनी गाइडलाइन बदले | Big Health Minister of Delhi said, ICMR changes its guidelines if test is to be increased

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री का बड़ा बयान, बोले- टेस्ट बढ़ाना है तो ICMR अपनी गाइडलाइन बदले

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री का बड़ा बयान, बोले- टेस्ट बढ़ाना है तो ICMR अपनी गाइडलाइन बदले

: , March 10, 2021 / 03:35 AM IST

नई दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना दोगुनी रफ्तार से आगे बढ़ रही हैं। जिसे लेकर सरकार की चिंता और बढ़ गई है। वहीं कोरोना टेस्टिंग बढ़ाने को लेकर दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन का बड़ा बयान सामने आया है।

Read More News:  सीएम वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए कई कार्यक्रमों में करेंगे शिरकत, जनप्रतिनिधियों से भी करेंगे 

मंत्री ने कहा कि आपको टेस्टिंग बढ़वानी है तो ICMR से कहिए कि अपनी गाइडलाइन बदल दें। ICMR की गाइडलाइन की हम अवहेलना नहीं कर सकते हैं, जो उन्होंने शर्तें लगा रखी हैं पूरे देश में उन्हीं के टेस्ट हो सकते हैं। आप ICMR से, केंद्र सरकार से कहिए कि उसको खोल दे जो भी चाहे जा कर टेस्ट करा ले।

आगे कहा कि कोरोना वायरस के मामले पूरे देश में भी हैं और दिल्ली में भी हैं। जहां कम मामले हैं थोड़े दिनों में उनका नंबर आएगा। दिल्ली कोरोना वायरस के मामलों में मुंबई से 10-12 दिन पीछे चल रही है।

Read More News: सेना ने अनंतनाग में 2 और दहशतगर्दों को किया ढेर, बीते दो हफ्तों में 25 से ज्यादा आतंकी मारे 

इसके साथ ही आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने भी केंद्र सरकार से टेस्टिंग को लेकर ICMR की गाइडलाइंस बदलने की मांग उठाई है। संजय सिंह ने केंद्र सरकार से अपील करते हुए कहा है कि ज्यादा से ज्यादा टेस्टिंग बढ़ाने के लिए इस समय सबसे जरूरी है कि ICMR की गाइडलाइन्स की जो बाध्यता है वो खत्म की जाए। मैंने स्वास्थ्य मंत्री जी को पत्र लिखकर गाइडलाइन्स बदलने की अपील की है। ताकि जिन भी लोगों को कोरोना होने की आशंका है वो सब अपना टेस्ट करवा सकें।

Read More News: प्रदेश सरकार ने पेट्रोल-डीजल पर लगाया कोरोना कर, मंदी से निपटने वाणिज्य विभाग ने बनाई नई 

आगे कहा कि सभी लैब्स को लाइसेंस और सभी राज्यों को टेस्टिंग किट्स केंद्र सरकार दे। जब तक लोगों को पता नहीं चलेगा कि वे संक्रमित हैं या नहीं वो इस बीमारी से बचने के लिए जरूरी चिकित्सीय उपचार नहीं लेंगे। इससे आने वाले समय में मृत्यु के आंकड़े बढ़ सकते हैं और स्थितियां भयावह हो सकती हैं।

 

#HarGharTiranga