Blackmail swindling by making nude videos on video call, 3 arrested

आप भी करते हैं ‘डेटिंग ऐप’ का इस्तेमाल तो हो जाएं सावधान: वीडियो कॉल पर न्यूड वीडियो बनाकर ब्लैकमेल कर रहा था ये गिरोह, 3 गिरफ्तार

आप भी करते हैं ‘डेटिंग ऐप’ का इस्तेमाल तो हो जाएं सावधान: Blackmail swindling by making nude videos on video call, 3 arrested

Edited By: , May 23, 2022 / 10:25 PM IST

फरीदाबाद : फरीदाबाद पुलिस ने सोमवार को एक ऐसे गिरोह का भंडाफोड़ किया, जो पहले समलैंगिक लोगों के लिए बनाए गए डेटिंग ऐप के जरिये लोगों को आकर्षित करके उनके आपत्तिजनक वीडियो रिकॉर्ड करता था फिर उन्हें ब्लैकमेल करके लूटता था। आरोपियों ने फरीदाबाद के एक व्यक्ति के साथ वीडियो वायरल करने की धमकी देकर 2.95 लाख रुपये की लूट की वारदात को अंजाम दिया था। डीसीपी नीतीश अग्रवाल ने बताया कि गिरफ्तार किए गए आरोपियों में विशाल, करण तथा पुनीत उर्फ पोनी का नाम शामिल है, जो फरीदाबाद की गांधी कालोनी के रहने वाले हैं। इनकी उम्र क्रमश: 22, 19 तथा 23 वर्ष है। आरोपियों ने लूटपाट करने के लिए एक ऐसा तरीका अपनाया था जिसमें लूटपाट होने के पश्चात भी पीडि़त इसके बारे में किसी को बताने में कतराते हैं।

Read more :  विधायक को पत्नी और बेटे समेत तीन साल की सजा, साली के साथ की थी मारपीट, इस राज्य का है मामला 

दरअसल, आरोपी एक ‘ग्राइंडर’ नाम के ऐप का उपयोग करते हैं, जिसमें एलजीबीटीक्यू समुदाय के सदस्य एक-दूसरे से संपर्क कर सकते हैं। इसी का फायदा उठाकर आरोपी इस ऐप के माध्यम से व्यक्ति को अपने किसी ठिकाने पर बुलाते हैं और उसके पश्चात उसका अश्लील वीडियो बनाकर हथियार के दम पर उसके साथ लूट की वारदात को अंजाम देते हैं। इसी प्रकार की वारदात को अंजाम देते हुए आरोपियों ने 11 मई को फरीदाबाद के एनआईटी एरिया के रहने वाले एक व्यक्ति के साथ लूट की वारदात को अंजाम दिया था। आरोपियों ने इस व्यक्ति को अपने कमरे पर बुलाकर उसका वीडियो बनाया और उसके पश्चात कट्टे तथा पिस्टल की नोक पर उसके बटुए से 20 हजार रुपए छीन लिए तथा उसके डेबिट कार्ड से एक लाख रुपये निकाल लिये। उसके क्रेडिट कार्ड से पेट्रोल पंप से 01.75 लाख रुपये का स्वाइप करवा लिया। इस प्रकार आरोपियों ने पीड़ित से 2,95,000 लूट लिए।

Read more :  अटकलों पर लगा विराम, अनिल बैजल के बाद इन्हें बनाया गया दिल्ली का उपराज्यपाल, वाजपेयी सरकार में रहे गृह सचिव 

आरोपियों ने पीडि़त को धमकी दी कि यदि उसने कि किसी को भी इसके बारे में बताया, तो वह उसकी वीडियो को वायरल कर देंगे। बदनामी के डर से पीड़ित ने शुरू में इसके बारे में किसी को नहीं बताया लेकिन 10 दिन बाद 22 मई को उसने हिम्मत करके पुलिस थाना एसजीएम नगर में इसकी शिकायत की। इसके आधार पर आरोपियों के खिलाफ लूटपाट, धमकी देने तथा अवैध हथियार अधिनियम की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज करके उनकी तलाश शुरू की गई। पुलिस की अपराध शाखा की टीम ने इस मामले में तुरंत कार्रवाई करते हुए मामला दर्ज होने के मात्र 24 घंटे के अंदर आरोपियों को गांधी कॉलोनी से गिरफ्तार कर लिया।

Read more : आसमान से आ रही आफत! धरती की तरफ बढ़ रहा कुतुब मीनार से 24 गुना बड़ा एस्टेरॉयड, नासा ने कही ये बात 

 

#HarGharTiranga