नौकरी और वृद्धा पेंशन का झांसा देकर ठगी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश |

नौकरी और वृद्धा पेंशन का झांसा देकर ठगी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश

नौकरी और वृद्धा पेंशन का झांसा देकर ठगी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश

:   September 21, 2023 / 12:46 PM IST

नोएडा (उप्र), 21 सितंबर (भाषा) नोएडा में साइबर अपराध पुलिस ने व्हाट्सएप पर घर बैठे काम करने का झांसा देकर लाखों रुपये की धोखाधड़ी के मामले में बुधवार को चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जबकि एक आरोपी अभी फरार है।

साइबर अपराध थाने की प्रभारी निरीक्षक रीता यादव ने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों की पहचान दिल्ली निवासी तरूण कौशिक और सिद्धार्थ शर्मा तथा गाजियाबाद निवासी मनीष और अरूण के रूप में हुई है।

पीड़ित शोभित गुप्ता ने 11 मई 2023 को साइबर अपराध पुलिस थाने में शिकायत देते हुए बताया था कि आरोपियों ने व्हाट्सएप पर अंशकालिक नौकरी की पेशकश कर यूट्यूब व इंस्टाग्राम पर छोटे-छोटे वीडियो को लाइक करने का काम दिया था। जिसके बदले में उनके बैंक खाते में छोटी-छोटी धनराशि भेजी गई थी।

उसने बताया कि इस तरह लालच देकर आरोपियों ने उसे अपने जाल में फंसाया और एक टेलीग्राम चैनल समूह में जोड़ कर मोटी रकम निवेश करने का झांसा दिया। उन्होंने करीब आठ लाख रुपये निवेश कर दिए लेकिन कोई लाभ नहीं मिला और इसके बाद ठगी का अहसास हुआ।

साइबर थाना पुलिस के दल ने मामले की छानबीन करते हुए बुधवार को चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

रीता यादव ने बताया कि एक आरोपी राजीव बंसल अभी फरार है। पुलिस उसे तलाश कर रही है।

उन्होंने बताया कि पूछताछ में यह भी पता चला कि आरोपी वृद्ध महिलाओं को पेंशन दिलाने का झांसा देकर उनसे भी ठगी करते थे।

भाषा सं. शोभना गोला

गोला

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)