यहां मुख्यमंत्री के सहयोगी मंत्री की बढ़ी मुश्किलें, 12 ’खास’ लोगों के ठिकानों पर मिला 500-2000 की नोटों का ढेर |

यहां मुख्यमंत्री के सहयोगी मंत्री की बढ़ी मुश्किलें, 12 ’खास’ लोगों के ठिकानों पर मिला 500-2000 की नोटों का ढेर

ed raid in west bengal : पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के मंत्रिमंडल में सहयोगी मंत्री पार्थ चटर्जी की मुश्किलें बढ़ती दिख रही है। ईडी ने शिक्षक भर्ती घोटाले के केस में पार्थ चटर्जी व मंत्री की करीबी अर्पिता मुखर्जी के अलावा एक दर्जन से अधिक उनके खास अधिकारियों व रिश्तेदार के घरों पर रेड की है।

Edited By: , July 23, 2022 / 10:46 AM IST

ed raid in west bengal : कोलकाता। पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी के केबिनेट में सहयोगी मंत्री पार्थ चटर्जी की मुश्किलें बढ़ती दिख रही है। ईडी ने शिक्षक भर्ती घोटाले के केस में पार्थ चटर्जी व उनकी करीबी अर्पिता मुखर्जी के घर पर छापामार कार्रवाई की है। इनके अलावा स्कैम में जुड़े होने के आरोप में दस अन्य खास लोगों के ठिकानों पर भी छापेमारी की गई है।

शुक्रवार को ईडी रेड में अर्पिता के ठिकानों से 20 करोड़ रुपये से अधिक कैश जब्त किया गया है। केंद्रीय एजेंसी को शक है कि बरामद किया गया कैश एसएससी स्कैम में कमाया गया धन हो सकता है। मिले कैश की गिनती के लिए एजेंसी को कैश काउंटिंग मशीन की मदद लेनी पड़ी है।

20 से अधिक मोबाइल भी जब्त

ed raid in west bengal : अर्पिता मुखर्जी के परिसर से 20 से अधिक मोबाइल फोन भी बरामद किए गए हैं, जिसके उद्देश्य और उपयोग का पता लगाया जा रहा है। ईडी ने पश्चिम बंगाल स्कूल सेवा आयोग और पश्चिम बंगाल प्राथमिक शिक्षा बोर्ड में भर्ती घोटाले से जुड़े मामलों में कई जगहों पर छापेमारी की है।

read more  ; ‘शिवसेना’ पर किसका होगा अधिकार? इस दिन होगा तय, चुनाव आयोग ने मांगी ये चीजें

यहां भी मारी गई रेड

ईडी ने पश्चिम बंगाल स्कूल सेवा आयोग और पश्चिम बंगाल प्राथमिक शिक्षा बोर्ड में भर्ती घोटाले से जुड़े मामलों में कई जगहों पर छापेमारी की है। चटर्जी के अलावा ईडी की रेड, शिक्षा राज्यमंत्री परेश सी. अधिकारी, पश्चिम बंगाल बोर्ड ऑफ प्राइमरी एजुकेशन के पूर्व अध्यक्ष व विधायक माणिक भट्टाचार्य, विधायक, पार्थ चटर्जी की करीबी सुश्री अर्पिता मुखर्जी, तत्कालीन एमआईसी ऑफ एजुकेशन के ओएसडी पीके बंदोपाध्याय, तत्कालीन एमआईसी ऑफ एजुकेशन के पीएस सुकांत आचार्य, कल्याणमय भट्टाचार्य के रिश्तेदार कृष्णा सी. अधिकारी; पश्चिम बंगाल केंद्रीय विद्यालय सेवा आयोग के सलाहकार- 5 सदस्यीय समिति के संयोजक डॉ. एस.पी. सिन्हा, पश्चिम बंगाल माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष कल्याणमय गांगुली, पश्चिम बंगाल केंद्रीय विद्यालय सेवा आयोग के पूर्व अध्यक्ष सौमित्र सरकार, स्कूल शिक्षा विभाग के उप निदेशक आलोक कुमार सरकार के ठिकानों पर की जा रही है।

जांच एजेंसी न क्या कहा?

read more  ; छत्तीसगढ़: नाबालिग के साथ कार में गैंगरेप, मामले में एक नाबालिग सहित 3 आरोपी गिरफ्तार

जांच एजेंसी ने एक बयान में कहा कि बरामद धनराशि को एसएससी घोटाले के अपराध की आय होने का संदेह है। मिले कैश की गणना के लिए मशीनों के माध्यम से गिनती कराई जा रही है। इसके लिए बैंक के अधिकारियों से भी मदद ली जा रही है। ईडी के अनुसार अर्पिता मुखर्जी के परिसर से 20 से अधिक मोबाइल फोन भी बरामद किए गए हैं। इसके अलावा ईडी ने शिक्षा राज्य मंत्री परेश सी अधिकारी, विधायक माणिक भट्टाचार्य और अन्य पर भी छापेमारी की है।

बता दें कि पार्थ चटर्जी, वर्तमान में उद्योग और वाणिज्य मंत्री हैं, पहले शिक्षा मंत्री थे जब पश्चिम बंगाल स्कूल सेवा आयोग द्वारा सरकारी और सहायता प्राप्त स्कूलों में कथित अवैध नियुक्तियाँ की गईं थी।

 

#HarGharTiranga