कोई भी पश्चिम बंगाल में सीएए को लागू होने से नहीं रोक सकता : राजनाथ सिंह |

कोई भी पश्चिम बंगाल में सीएए को लागू होने से नहीं रोक सकता : राजनाथ सिंह

कोई भी पश्चिम बंगाल में सीएए को लागू होने से नहीं रोक सकता : राजनाथ सिंह

:   Modified Date:  April 21, 2024 / 07:22 PM IST, Published Date : April 21, 2024/7:22 pm IST

मालदा (प. बंगाल), 21 अप्रैल (भाषा) रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार को कहा कि भाजपा अपने वादों को पूरा करती है, इसलिए कोई भी पश्चिम बंगाल में नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) को लागू होने से नहीं रोक सकता है।

उन्होंने कहा कि सीएए किसी की नागरिकता छीनने के लिए नहीं है बल्कि धार्मिक आधार पर पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान से विस्थापित लोगों को भारतीय नागरिकता देने का कानून है।

मालदा उत्तर निर्वाचन क्षेत्र से भाजपा उम्मीदवार खगेन मुर्मू के समर्थन में यहां एक रैली को संबोधित करते हुए सिंह ने कहा, ‘‘कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस या वामपंथी दल चुनाव के दौरान कई वादे करते हैं, जो पूरे नहीं होते हैं, लेकिन भाजपा अपने वादों को पूरा करती है।’’

उन्होंने कहा कि शेष भारत के साथ-साथ पश्चिम बंगाल में भी सीएए को लागू होने से कोई नहीं रोक सकता।

सिंह ने कहा, ‘‘ममता दीदी (मुख्यमंत्री ममता बनर्जी) कहती हैं कि वह अपने राज्य में सीएए को लागू नहीं होने देंगी। वह पश्चिम बंगाल के लोगों को धोखा देने की कोशिश क्यों कर रही हैं।’’

सिंह ने कहा कि पिछली सरकारों के विपरीत नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार में भारत के साथ सम्मानपूर्वक व्यवहार किया जाता है।

उन्होंने कहा, ‘‘जब हम अंतरराष्ट्रीय मंच पर कुछ कहते हैं, तो उसे सम्मान के साथ सुना जाता है।’’

भाजपा के वरिष्ठ नेता ने कहा कि मोदी का संकल्प 2047 तक भारत को एक विकसित देश बनाना है।

सिंह ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 को खत्म करने और अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण जैसे वादे पूरे हुए हैं तथा ‘राम राज्य’ के अस्तित्व में आने के संकेत मिल रहे हैं।

रक्षा मंत्री ने कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार ने ‘तीन तलाक’ को खत्म करने का अपना वादा भी पूरा किया है।

उन्होंने बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस की आलोचना करते हुए आरोप लगाया कि पार्टी के सत्ता में आने के बाद बंगाल में केवल जबरन वसूली करने वाले, अपराधी और भ्रष्टाचारी ही पनपे हैं।

भाजपा के वरिष्ठ नेता ने राज्य सरकार पर लोगों को केंद्र की कल्याण योजनाओं के लाभ से वंचित करने का भी आरोप लगाया।

भाषा शफीक दिलीप

दिलीप

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Flowers