Panipuri Ban In This City

अब नहीं खा पाएंगे गुपचुप, यहां की सरकार ने लगाया प्रतिबंध

Now you will not be able to eat Panipuri : अब नहीं खा पाएंगे गुपचुप, यहां की सरकार ने लगाया प्रतिबंध.......

Edited By: , June 27, 2022 / 11:58 AM IST

Panipuri Ban In This City : नई दिल्ली। पानीपुरी या गुपचुप खाना हर किसी को पसंद होता है, लेकिन अगर साफ-सफाई से न बनाया जाए तो ये कई बिमारियों को दस्तक दे सकती है। दरअसल काठमांडू घाटी के ललितपुर मेट्रोपॉलिटन शहर में इन दिनों हैजा तेजी से फैल रहा है। यहां अबतक हैजा के 12 केस सामने आ चुके हैं। इसे देखते हुए यहां की सरकार ने शनिवार को पानीपुरी की बिक्री और डिस्ट्रीब्यूशन पर प्रतिबंध लगाने का फैसला किया है।

Read More : Weather Update : अभी-अभी मौसम विभाग ने जारी की चेतावनी, इन राज्यों में होगी भारी बारिश

पानीपुरी पर पूरी तरह पप्रतिबंध

सुरक्षा के मद्दे नजर काठमांडू में अब पानीपुरी की बिक्री पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। शहर के प्रशासन की ओर से यह दावा किया गया कि पानीपुरी में इस्तेमाल किए गए पानी में हैजा के बैक्टीरिया पाए गए थे। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, शहर में भीड़-भाड़ वाले क्षेत्रों और कॉरिडोर क्षेत्र में पानीपुरी की बिक्री रोकने के लिए आंतरिक तैयारी की गई है, जिसमें कहा गया है कि घाटी में हैजा फैलने का खतरा बढ़ गया है।

अब तक हैजा 12 संक्रमित

स्वास्थ्य और जनसंख्या मंत्रालय के अनुसार, काठमांडू घाटी में सात और लोगों के हैजा संक्रमित पाए गए। इसके साथ ही अब हैजा के रोगियों की कुल संख्या 12 तक पहुंच गई है। महामारी विज्ञान और रोग नियंत्रण प्रभाग के अनुसार, काठमांडू महानगर में हैजा के पांच मामलों की पहचान की गई है और चंद्रगिरी नगर पालिका और बुधनिलकांठा नगर पालिका में एक-एक मामले की पहचान की गई है।

Read More : पंजाब के उपचुनाव जीतने पर भिंडरावाले को मिला श्रेय,और देखिए छत्तीसगढ़ के नक्सली मुद्दे पर क्या कहा उम्मीदवार मान ने?

स्वास्थ्य मंत्रालय ने जारी की चेतावनी

बताया जा रहा है कि संक्रमितों का इलाज टेकू स्थित सुकरराज ट्रॉपिकल एंड इंफेक्शियस डिजीज हॉस्पिटल में चल रहा है। इससे पहले राजधानी के अलग-अलग हिस्सों में हैजा के पांच मामले मिले थे। संक्रमितों में से दो को पहले ही इलाज और छुट्टी दे दी गई है। इस बीच, स्वास्थ्य और जनसंख्या मंत्रालय ने लोगों से आग्रह किया है कि हैजा के किसी भी लक्षण का अनुभव होने पर तुरंत अपने नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र में जाएं। मंत्रालय ने सभी से सतर्क और सतर्क रहने का अनुरोध किया है क्योंकि डायरिया, हैजा और अन्य जल जनित बीमारियां विशेष रूप से गर्मी और बरसात के मौसम में फैल रही हैं।

Read More : मां बनने वाली हैं Alia Bhatt, देखिए #RanbirAlia Latest Photos

 

#HarGharTiranga