असम में पेट्रोलियम कर्मचारी निकाय ने मेघालय में ईंधन की आपूर्ति बहाल करने का फैसला किया |

असम में पेट्रोलियम कर्मचारी निकाय ने मेघालय में ईंधन की आपूर्ति बहाल करने का फैसला किया

असम में पेट्रोलियम कर्मचारी निकाय ने मेघालय में ईंधन की आपूर्ति बहाल करने का फैसला किया

: , November 29, 2022 / 08:03 PM IST

गुवाहाटी, 25 नवंबर (भाषा) असम पेट्रोलियम मजदूर यूनियन (एपीएमयू) ने मेघालय में ईंधन की आपूर्ति बहाल करने का शुक्रवार को फैसला किया।

यह फैसला टैंकर और उसमें सवार लोगों की सुरक्षा का पड़ोसी राज्य द्वारा आश्वासन दिए जाने के बाद लिया गया। मेघालय में ईंधन का परिवहन एक दिन पहले रोक दिया गया था।

असम में पेट्रोलियम कर्मचारियों के शीर्ष निकाय ने बृहस्पतिवार को कहा था कि असम से जा रहे वाहनों पर हमले की खबरों के बाद उसने मेघालय में ईंधन के परिवहन को रोक दिया है। इससे पहले असम-मेघालय सीमा पर हिंसा में छह लोगों की मौत हो गई थी। इसी हिंसा की पृष्ठभूमि में वाहनों पर कथित हमले हुए हैं।

एपीएमयू के महासचिव रमन दास ने ‘पीटीआई-भाषा’ को कहा, ‘‘हमें मेघालय के प्राधिकारियों से आश्वासन मिला है कि टैंकर, हमारे चालकों और अन्य कर्मचारियों की सुरक्षा सुनिश्चित की जाएगी। हमने उनसे कहा है कि अगर कोई अप्रिय घटना होती है, तो हम वाहनों को फिर तुरंत रोक देंगे।’’

उन्होंने कहा कि जिन अन्य शर्तों के तहत परिवहन फिर से शुरू किया गया है, उनमें यह शर्त भी शामिल है कि मेघालय में स्थिति सामान्य होने तक शाम के बाद भरे हुए टैंकर वहां नहीं भेजे जाएंगे।

दास ने कहा, ‘‘इसके अलावा, हम स्थिति बेहतर होने तक मेघालय में रात भर कोई भरा हुआ टैंकर नहीं रखेंगे।’’

उन्होंने कहा कि गुवाहाटी में एचपीसीएल बेटकुची डिपो से पेट्रोलियम उत्पादों के साथ सात टैंकर पड़ोसी राज्य के लिए रवाना हो गए हैं।

दास ने कहा कि पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन, मेघालय (पीडीएएम) ने भी राज्य को ईंधन की सुचारू आपूर्ति सुनिश्चित करने में सहयोग देने का आश्वासन दिया है।

भाषा

सिम्मी नरेश

नरेश

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)