Pm narendra modi alleged congress government on anarchy and terrorism in jamnagar

Gujarat Election 2022: पीएम मोदी का कांग्रेस पर बड़ा आरोप, कहा- ‘पिछली सरकार ने आतंकवाद के खिलाफ सेना के हाथ बांध रखे थे’

Gujarat Assembly Elections 2022: पीएम मोदी ने जामनगर चुनाव प्रचार के दौरान कहा कि कांग्रेस शासन के दौरान अराजकता, आतंकवाद, भाई-भतीजावाद और वोट बैंक की राजनीति फैली हुई थी।

Edited By: , November 29, 2022 / 08:23 PM IST

Gujarat Assembly Elections 2022: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात विधानसभा चुनाव के प्रचार के दौरान जामनगर में एक रैली को संबोधित किया। इस रैली में उन्होंने कांग्रेस पर हमला किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस शासन के दौरान अराजकता, आतंकवाद, भाई-भतीजावाद और वोट बैंक की राजनीति फैली हुई थी। कांग्रेस नेता उन लोगों के खिलाफ चुप रहते थे जो लोग अराजकता और आतंकवाद को फैलाने में शामिल थे। लोग अपने आप को असुरक्षित महसूस करते थे।

गुजरात के सौराष्ट्र क्षेत्र के जामनगर कस्बे में एक रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने लोगों से अपील की कि वे “अर्बन नक्सलियों” को राज्य में प्रवेश न करने दें। उन्होंने रैली को संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस शासन में देश में असुरक्षा, अशांति, आतंकवाद, वोट बैंक की राजनीति, लेन-देन की राजनीति थी. इससे धीरे-धीरे पूरा देश बर्बाद हो गया।

Read More : गुजरात की इस सीट पर औवेसी की एंट्री, जहां बीजेपी के हाथ खून से रंगे, वहां AIMIM अध्यक्ष लगा रहे ऐड़ी-चोटी का जोर 

‘देश में असुरक्षा का माहौल’

आए दिन बम धमाकों की खबरें आती रहती थीं और असुरक्षा का माहौल था क्योंकि, वोट बैंक की राजनीति के लिए कांग्रेस ने सेना के हाथ बांध रखे थे। सेना का काम करना मुश्किल कर दिया था। आतंकवाद से लड़ना है तो सैनिकों से कहा जाता था कि आंख पर हाथ रखकर जवाब दें लेकिन, हमने वह वोटबैंक की राजनीति ही खत्म कर दी।

Read More : Tathastu Download in Hindi कॉमेडियन Zakir Khan की Tathastu 1 दिसंबर को Amazon Prime पर हो रही रिलीज, हंसते हंसते फूल जाएगी पेट

2जी स्कैम की भी दिलाई याद

इस रैली में पीएम मोदी ने कांग्रेस के शासनकाल पर आरोप लगाते हुए कहा कि यूपीए गठबंधन 2 के शासनकाल के दौरान 2जी घोटाले के कारण लोगों के लिए इंटरनेट महंगा हो गया। तो वहीं, भारत आज मोबाइल फोन का दूसरा सबसे बड़ा निर्माता बन गया है और हर साल भारत में बने करोड़ों फोन अन्य देशों को निर्यात किए जाते हैं। कम लागत में आज भी देश में लोग मोबाइल फोन का इस्तेमाल करते हैं।

उन्होंने कहा कि मोबाइल फोन के क्षेत्र में कांग्रेस के शासन में क्या हुआ? 2जी घोटाला हुआ। उस घोटाले की वजह से इंटरनेट महंगा हो गया है। कांग्रेस अगर आज सत्ता में होती तो आपके मोबाइल फोन का खर्च 300-400 रुपये की जगह 4,000-5,000 रुपये होता। आज आप मुफ्त में फोन पर बात भी कर सकते हैं।

IBC24 की अन्य बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें