RJ livelihood loan scheme :

सरकार का बड़ा ऐलान, इस नई योजना के तहत ऐसे परिवारों को मिलेगा 2 Lakh रुपए, नहीं लगेगा ब्याज, जानें अभी

सरकार का बड़ा ऐलान, इस नई योजना के तहत ऐसे परिवारों को मिलेगा 2 Lakh रुपए, नहीं लगेगा का ब्याज, जानें अभी RJ livelihood loan scheme :

Edited By: , November 29, 2022 / 08:08 PM IST

जयपुर। livelihood loan scheme : राजस्थान की गहलोत सरकार ने बड़ा ऐलान किया है। सहकारिता विभाग ने ग्रामीण क्षेत्र के परिवारों के लिए राजस्थान ग्रामीण परिवार आजीविका ऋण योजना की शुरूआत की है। इस नई योजना के तहत एक लाख परिवारों को सरकार अकृषि कार्यों के लिए 2 हजार करोड़ रुपये का ब्याज मुक्त ऋण दिया जायेगा। वहीं इसके लिए राज्य सरकार ऋणों के लिए 100 करोड़ रुपए का ब्याज अनुदान देगी।  >>*IBC24 News Channel के WHATSAPP  ग्रुप से जुड़ने के लिए  यहां CLICK करें*<<

यह भी पढ़ें : प्रदेश की जनता को आज मिलेगी सौगात, CM शिवराज खाते में ट्रांसफर करेंगे 345 करोड़ 59 लाख रुपए

livelihood loan scheme :  योजना का लाभ उन्हीं लोगों को मिलेगा जो प्रदेश के मूल निवासी है या फिर पिछले 5 वर्षों से निवास कर रहे परिवार इस योजना का लाभ ले सकते हैं। सहकारिता मंत्री उदय लाल आंजना ने बताया कि ग्रामीण क्षेत्र में कई परिवार, कृषि एवं पशुपालन के साथ-साथ अकृषि गतिविधियां यथा हस्तशिल्प, लघु उद्योग, कताई-बुनाई, रंगाई-छपाई आदि पर भी आजीविका के लिए निर्भर हैं। इस कार्यों को पूरा करने के लिए आर्थिक समस्याओं को सामना करना पड़ता है। ऐसे में ऋण योजना के लागू होने से उन्हें आर्थिक मदद मिलेगी।

यह भी पढ़ें :  बारिश ने तोड़ी किसानों की कमर, फसलें हो रही बर्बाद, पानी ने किया बेहाल…

सरकार अकृषि क्षेत्र में एक लाख परिवारों को 2 हजार करोड़ रुपये के ब्याज मुक्त ऋण वितरित किये जाएंगे। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बजट में घोषणा की थी। वहीं अब योजना के लागू होने गई है। इससे ग्रामीण क्षेत्र के कृषक परिवार कृषि कार्यों के साथ-साथ अकृषि कार्यों के लिए भी ब्याज मुक्त ऋण मिल पायेगा।

यह भी पढ़ें :  संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हो गई तीन किशोरियां, 3 महिला आरक्षी पर गिरी गाज, निलंबित…

10 सदस्यों को दिया जाएगा ऋण

livelihood loan scheme : राजस्थान ग्रामीण परिवार आजीविका ऋण योजना के तहत प्रति समूह अधिकतम 10 सदस्यों को व्यक्तिगत रूप से ऋण दिया जायेगा। चहीं ऋण की अधिकतम राशि 2 लाख रुपये होगी। ऋण के लिए आवेदक के पास आधार , जनाधार के साथ साथ क्षेत्रीय बैंक शाखा के कार्य क्षेत्र अथवा जिले का निवासी होना जरूरी है। परिवार के सदस्य के पास किसी भी लाइसेंसधारी बैंक से जारी किया हुआ किसान कार्ड होना चाहिए। जिन परिवारों के पास किसान क्रेडिट कार्ड नहीं है उनको नये सदस्य के रूप में अकृषि कार्यों के लिए क्रेडिट कार्ड स्वीकृत किया जाएगा।

यह भी पढ़ें :  मशहूर फिल्मकार का निधन, ढेर सारी ऐतिहासिक फिल्मों का किया निर्माण, जीते थे कई इंटरनेशनल अवार्ड

सरकार खुद करेंगी मदद

योजना का लाभ लेने के लिए सरकार खुद मदद करेगी। वहीं जैसा कि आवेदक से कोई प्रोसेसिंग फीस नहीं ली जाएगी। आवेदक को सम्पूर्ण ऋण साख सीमा के रूप में स्वीकृत किया जायेगा। वहीं स्वीकृत साख सीमा का प्रतिवर्ष नवीनीकरण करवाना होगा। वहीं सभी प्रमाण पत्र जमा होने के बाद 15 दिन के भीतर ही ऋण स्वीकृति पर फैसला हो जाएगा। वहीं समय पर ही इसकी जानकारी दी जाएगी। अगर किसी कारणों से आवेदन निरस्त हो जाएगा तो इसकी भी जानकारी दी जाएगी।

और भी है बड़ी खबरें…