...should there be a red carpet? Supreme Court asks Nupur Sharma

…उनके लिए रेड कॉर्पेट होना चाहिए? सुप्रीम कोर्ट ने नूपुर शर्मा के वकील से पूछा, खारिज की केस ट्रांसफर करने की याचिका

...उनके लिए रेड कॉर्पेट होना चाहिए? ...should there be a red carpet for them? Supreme Court asks Nupur Sharma

Edited By: , July 1, 2022 / 12:39 PM IST

नई दिल्ली: Supreme Court asks Nupur Sharma पैगंबर पर टिप्पणी मामले में बीजेपी से निलंबित प्रवक्ता नूपुर शर्मा को सुप्रीम कोर्ट ने जमकर फटकार लगाई है। सुप्रीम कोर्ट ने मामले में सुनवाई करते हुए कहा है कि उन्हें पूरे देश से माफी मांगनी चाहिए। साथ ही कोर्ट ने केस ट्रांसफर करने वाली याचिका को भी खारिज कर दिया है। सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें हाई कोर्ट जाने के लिए कहा है। वहीं, सुप्रीम कोर्ट ने नूपुर शर्मा के कोर्ट में पेश नहीं होने पर नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि क्या उनके लिए रेड कॉर्पेट होना चाहिए।

Read More: तारक मेहता का उल्टा चश्मा में नए नट्टू काका की एंट्री, अब जेठा लाल से ये एक्टर कहेंगे- सेठ जी पगार बढ़ा दीजिए

Supreme Court asks Nupur Sharma SC ने नूपुर शर्मा को फटकार लगाते हुए कहा कि उन्हें पूरे देश से माफी मांगनी चाहिए। SC ने कहा कि उन्होंने और उनके बयान ने पूरे देश में आग लगा दी है। SC ने कहा कि टीवी चैनल और नुपुर शर्मा को ऐसे मामले से जुड़े किसी भी एजेंडे को बढ़ावा नहीं देना चाहिए, जो न्यायालय में विचाराधीन है।

Read More: 10वीं पास के लिए इन पदों पर निकली बंपर वैकेंसी, कल से आवेदन शुरू… 

सुप्रीम कोर्ट का कहना है कि उदयपुर में हुई दुर्भाग्यपूर्ण घटना के लिए उनका बयान ही जिम्मेदार है, जहां एक दर्जी की हत्या कर दी गई। नूपुर शर्मा को माफी मांगने में और बयान वापस लेने में बहुत देर हो चुकी थी। जैसा कि नूपुर शर्मा के वकील ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि उन्हें अपनी जान का खतरा है, जस्टिस सूर्यकांत का कहना है कि उन्हें खतरा है या वह सुरक्षा के लिए खतरा बन गई हैं? उन्होंने जिस तरह से पूरे देश में भावनाओं को भड़काया है, देश में जो हो रहा है उसके लिए वह अकेले ही जिम्मेदार हैं।

Read More: Maharashtra Politics! आज ED के सामने पेश होंगे संजय राउत, ट्वीट कर शिवसेना कार्यकर्ताओं से की ये अपील

सुप्रीम कोर्ट ने पूछा कि नूपुर शर्मा के खिलाफ शिकायत दर्ज होने के बाद दिल्ली पुलिस ने क्या किया। उसकी शिकायत पर एक व्यक्ति को गिरफ़्तार किया जाता है, लेकिन कई एफआईआर के बावजूद उसके (नुपूर शर्मा) खिलाफ अभी तक दिल्ली पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की है। तो नूपुर शर्मा के वकील को इस मामले में संबंधित हाईकोर्ट के पास जाने का सुझाव दिया है।

Read More: तारक मेहता का उल्टा चश्मा में नए नट्टू काका की एंट्री, अब जेठा लाल से ये एक्टर कहेंगे- सेठ जी पगार बढ़ा दीजिए

जब नूपुर शर्मा की वकील सुप्रीम कोर्ट से कहती हैं कि वह जांच में शामिल हो रही हैं और भाग नहीं रही हैं, तो सुप्रीम कोर्ट ने कहा- वहां आपके लिए रेड कार्पेट होना चाहिए। सुप्रीम कोर्ट ने निलंबित बीजेपी नेता नूपुर को उनके खिलाफ दर्ज़ सभी एफआईआर को दिल्ली स्थानांतरित करने के लिए राहत देने से इनकार कर दिया। नूपुर शर्मा ने सुप्रीम कोर्ट से अपनी याचिका वापस ली।

Read More: 10वीं पास के लिए इन पदों पर निकली बंपर वैकेंसी, कल से आवेदन शुरू… 

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि, जब आप किसी के खिलाफ शिकायत दर्ज़ कराते हैं, तो उस व्यक्ति को गिरफ़्तार कर लिया जाता है, लेकिन इस मामले में आपके ऊपर किसी ने कोई कार्रवाई करने की हिम्मत नहीं की, जो आपका दबदबा दिखाता है।

Read More: Maharashtra Politics! आज ED के सामने पेश होंगे संजय राउत, ट्वीट कर शिवसेना कार्यकर्ताओं से की ये अपील

 

#HarGharTiranga