The matter of lapse in the security of PM Modi reached the Supreme Court

सुप्रीम कोर्ट पहुंचा पीएम मोदी की सुरक्षा में चूक का मामला, इधर पंजाब सरकार ने भी गठित की हाई-लेवल कमेटी

: , January 6, 2022 / 12:16 PM IST

नई दिल्लीः lapse in the security of PM Modi पीएम मोदी की सुरक्षा में चूक का मामला अब सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच गया है। इस मामले को लेकर सीनियर एडवोकेट मनिंदर सिंह ने सुप्रीम कोर्ट में एक जनहित याचिका दायर की है। सुप्रीम कोर्ट में चीफ जस्टिस एनवी रमन्ना की बेंच आज ही इस मामले पर सुनवाई कर सकती है। सीनियर एडवोकेट मनिंदर सिंह ने अपने याचिका में कहा है कि इस तरह की सुरक्षा में चूक स्वीकार्य नहीं की जा सकती. याचिका में सीनियर एडवोकेट मनिंदर सिंह ने पंजाब सरकार को उचित निर्देश देने, उत्तरदायी लोगों के खिलाफ सख्त एक्शन लेने की मांग की है।

Read more : ‘बेहतर महसूस’ होने पर ग्रामीण ने 12 बार लगवाया कोरोना का टीका.. अब दिए गए जांच के आदेश

lapse in the security of PM Modi इधर पंजाब सरकार ने मसले की जांच के लिए हाई-लेवल कमेटी बनाई है। एक आधिकारिक प्रवक्ता ने बताया कि कमेटी में रिटायर्ड जस्टिस मेहताब सिंह गिल और प्रमुख सचिव (गृह मामलों और न्याय) अनुराग वर्मा शामिल हैं। यह कमेटी तीन दिनों में अपनी रिपोर्ट पेश करेगी।

Read more : बेटियों को हर महीने मिलेगा 2000 रुपए, केंद्र सरकार ने शुरू की पीएम कन्या आशीर्वाद योजना? जानिए क्या है इसकी हकीकत 

बुधवार को पंजाब में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का फिरोजपुर में दौरा था। भारी बारिश के कारण पीएम को सड़क मार्ग से जाना पड़ा लेकिन इस दौरान हुसैनीवाला से 30 किलोमीटर दूर रास्ते में प्रदर्शनकारी मिल गए जिस कारण उनका काफिला तकरीबन 20 मिनट बेहद असुरक्षित क्षेत्र में रुका रहा। जिस इलाके में पीएम मोदी का काफिला रुका था, वह आतंकियों के अलावा हेरोइन तस्करों का गढ़ माना जाता है। पिछले साल सितंबर माह में इसी क्षेत्र में आतंकी वारदात को अंजाम दिया गया था। लिहाजा केंद्रीय गृह मंत्रालय के अलावा पीएम सिक्योरिटी के तमाम अधिकारियों के चेहरे पर शिकन पैदा होना जायज था। इसके बाद से पंजाब में सियासत गरमा गई थी।

 

#HarGharTiranga