Congress will use issues being raised in Bharat Jodo Yatra as election arrows in 2023

राहुल के सवाल.. राजनीति में बवाल! क्या भारत जोड़ो यात्रा में उठाए जा रहे मुद्दों को कांग्रेस 2023 में चुनाव भेदी तीर के रूप में इस्तेमाल करेगी?

राहुल के सवाल.. राजनीति में बवाल! Congress will use issues being raised in Bharat Jodo Yatra as election arrows in 2023

Edited By: , November 29, 2022 / 08:07 PM IST

सुधीर दंडोतिया/भोपालः Congress will use issues being  राहुल गांधी की पदयात्रा मध्यप्रदेश में 6 दिन पूरे कर चुकी है। इस दौरान कांग्रेस और भाजपा में हाईवोल्टेज पॉलिटिक्स हो रही है। राहुल गांधी बार-बार ऑपरेशन लोटस पर निशाना साध रहे हैं। महंगाई पर राहुल कहते हैं कि जनता की जेब से पैसा किसी और की जेब में और फिर बीजेपी से विधायकों की जेब में जाता है।

Read More :  इस हालत में मिले दादा-पोती, देखकर पुलिस ने भी रह गई दंग 

Congress will use issues being  मध्य प्रदेश में राहुल गांधी की यात्रा के दौरान एक बार फिर सरकार के तख्ता पलट को कांग्रेस मुद्दा बना रही है। राहुल गांधी महंगाई के बहाने आम लोगों की बात करते हैं लेकिन उनका टारगेट बीजेपी रहता है। राहुल कहते हैं कि यूपीए के समय जो सिलेंडर 400 का था, वो अब 1100 का है। यह पैसा गायब नहीं होता ट्रांसफर होता है, आपकी जेब से किसी और की जेब में फिर ये बीजेपी से ये पैसा विधायकों की जेब में जाता है।

Read More : Gujarat Election 2022: पीएम मोदी का कांग्रेस पर बड़ा आरोप, कहा- ‘पिछली सरकार ने आतंकवाद के खिलाफ सेना के हाथ बांध रखे थे’ 

राहुल गांधी के इस बयान पर बीजेपी तिलमिला गई है। बीजेपी ने पूछा कि राजस्थान में कांग्रेस की सरकार है, फिर वहां अस्थिरता क्यों है? रही बात मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार गिरने की तो इसके लिए बीजेपी ने तत्कालीन कमलनाथ सरकार को कठघरे में खड़ा कर दिया।

Read More : भूस्खलन के चलते ढह गईं इमारतें और समुद्र किनारे खड़ी गाड़ियां, मासूम समेत आठ लोगों की मौत 

इस बीच राहुल गांधी ने बीजेपी पर ये भी आरोप लगाया कि उनकी इमेज खराब करने के लिए बीजेपी करोड़ों रुपए खर्च कर रही है। बहरहाल भारत जोड़ो यात्रा को कांग्रेस भले ही गैर सियासी करार दे लेकिन राहुल के भाजपा, संघ और बीजेपी सरकार पर तीखे हमलों ने मध्य प्रदेश की सियासत को गरमा रखा है। ऐसा लगता है कि भारत जोड़ो यात्रा में उठाए जा रहे मुद्दों को कांग्रेस 2023 में चुनाव भेदी तीर के रूप में इस्तेमाल करेगी।