Does Congress work to discriminate against people?

बुलडोजर ने कहर ढाया..कांग्रेस को क्यों गुस्सा आया? ऑपरेशन बुलडोजर पर कांग्रेस का सवाल उठाने से किसे फायदा और किसे नुकसान?

बुलडोजर ने कहर ढाया..कांग्रेस को क्यों गुस्सा आया? Does Congress work to discriminate against people?

Edited By: , November 29, 2022 / 08:27 PM IST

नवीन कुमार सिंह/भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने संघ के मुस्लिम एकता के मंच से कहा कि बेटी किसी भी धर्म की हो उसके साथ बलात्कार करने वाले के घर पर बुल्डोजर ज़रुर चलेगा। शिवराज सिंह चौहान के इस बयान के कुछ ही मिनट बाद कांग्रेस का काउंटर आ गया। कांग्रेस ने सरकार के इस बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि मुसलमान,सिख और ईसाईयों पर एकतरफा कार्रवाई हो रही है। यानी इस सरकार में भेदभाव के तहत कार्रवाई की जा रही है। क्या वाकई ऐसा हो रहा है। क्या कार्रवाई एकतरफा हो रही?

Read More: अगले तीन दिनों तक होगी भारी बारिश, मौसम विभाग ने दी जानकारी

RSS के मुस्लिम मंच प्रमुख इंद्रेश कुमार का ये बयान शायद कांग्रेस को हज़म नहीं हो रहा है। लिहाजा उसने बीजेपी सरकार की नीयत पर ही सवाल खड़ा कर दिया। दरअसल इंद्रेश कुमार ने बुधवार को मुस्लिम मंच के सम्मेलन में ये दावा किया कि मध्यप्रदेश में बलात्कारियों के घर बुलडोजर चलाए जा रहे हैं। लेकिन कांग्रेस नेता पीसी शर्मा ने आरोप लगाया कि बीजेपी राज में मुसलमान, सिख और ईसाइयों पर एकतरफा कार्रवाई हो रही है। जबकि हर बलात्कारी के घर बुलडोजर चलना चाहिए।

Read More: Shraddha Walker Murder Case: श्रद्धा वालकर हत्याकांड मामले में आया लव जिहाद का एंगल, भाजपा विधायक ने दिल्ली पुलिस को दी ये नसीहत

वैसे ये पहला मौका नहीं है जब कांग्रेस ने बलात्कारियों के खिलाफ ऑपरेशन बुलडोज़र चलाने का विरोध किया हो। खरगोन दंगों के आरोपियों के घर पर चले बुलडोजर का भी कांग्रेस विरोध कर चुकी है। हालांकि कांग्रेस के आरोपों पर बीजेपी की तरफ से ये दावा किया जा रहा है कि न सिर्फ मध्यप्रदेश में बल्कि पूरे देश में मोदी जी सबका साथ सबका विकास और सबका विश्वास के साथ आगे बढ़ रहे हैं। खुद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी मुस्लिम मंच के सम्मेलन में ये दावा किया कि बेटी किसी भी धर्म की हो उसके साथ बलात्कार करने वाले के घर बुलडोज़र ज़रुर चलेगा।

Read More: जूता ​फैक्ट्री में लगी भीषण आग, एक की मौत, मची अफरातफरी

मध्यप्रदेश में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं। बीजेपी सत्ता में वापसी के लिए बेताब है। कांग्रेस हिंदू वोटरों के दिलों में जगह बनाने के हर मुमकिन जतन कर रही है। राहुल गांधी को मंदिरों में घुमाने की तैयारी चल रही है। कुल मिलाकर ये तय है कि 23 की पिच पर बीजेपी-कांग्रेस हिंदुत्व के मुद्दे पर ही बल्लेबाजी करने वाले हैं। ऐसे मे ऑपरेशन बुलडोजर पर कांग्रेस का सवाल उठाना किसे फायदा और किसे नुकसान होगा?

देश दुनिया की बड़ी खबरों के लिए यहां करें क्लिक