FIR registered against Congress MLA and councilors in Bhopal

राजधानी में कांग्रेस विधायक और पार्षदों के खिलाफ एफआईआर दर्ज, पूर्व मंत्री ने कही ये बात…

FIR registered against Congress MLA and councilors : राजधानी में अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई के दौरान हुए विवाद का मामला

Edited By: , September 22, 2022 / 01:04 PM IST

भोपाल : FIR registered against Congress MLA and councilors : राजधानी में अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई के दौरान हुए विवाद का मामला अब सियासी रंग ले रहा है। नगर निगम प्रशासन ने कांग्रेस विधायक समेत कांग्रेसी पार्षदों के खिलाफ टीटी नगर थाने में एफआईआर दर्ज करवाई है। वहीं कांग्रेस पार्षद गुड्डू चौहान की सदस्यता समाप्त करने के लिए नगर निगम कमिश्नर ने संभागायुक्त को पत्र भी लिखा है।

यह भी पढ़े : मेडिकल छात्र की अजीबोगरीब मौत से मचा हड़कंप, डॉक्टर भी नहीं बता पा रहे मौत की वजह ….जानें पूरा मामला

FIR registered against Congress MLA and councilors :  इस मामले पर पूर्व मंत्री और कांग्रेस विधायक पीसी शर्मा ने कहा कि नगर निगम प्रशासन ने स्टैंडिंग ऑडर के विरुद्ध 40 आदिवासियों को बेघर किया। हमने इसका विरोध किया तो अब नगर निगम डराने-धमकाने का काम कर रहा है। सरकार के हाथों की कठपुलती की तरह निगम प्रशासन नाच रहा है। पीसी शर्मा ने सवाल भी उठाया कि सिर्फ कांग्रेसी जनप्रतिनिधियों के क्षेत्रों में ही आखिर नगर निगम की कार्रवाई क्यों होती है। जबकि पूरे शहर ही अतिक्रमण की चपेट में हैं।

यह भी पढ़े : Congress President Election : सोनिया गांधी-अशोक गहलोत में दो घंटे तक गुफ्तगू, कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव में किसी का नहीं करेंगी समर्थन, ये है वजह

FIR registered against Congress MLA and councilors :  आदिवासियों के नाम पर सरकार का दिखावा भी निगम की इस कार्रवाई से सामने आया है। कांग्रेस के सीनियर पार्षद गुड्डू चौहान की सदस्यता समाप्त करने के लिए निगमायुक्त केवीएस चौधरी कोलसानी के संभागायुक्त को लिखे पत्र पर भी शर्मा ने निगम प्रशासन पर आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि हारे हुए बीजेपी के उम्मीदवार को दोबारा षडयंत्र के तहत फायदा पहुंचाने के लिए ऐसी कार्रवाई की जा रही है। कांग्रेस न सिर्फ दोनों ही मामलों पर न्यायालय में याचिका दर्ज कराएगी। बल्कि हर स्तर पर मुंह तोड़ जबाव के लिए भी कांग्रेस तैयार है। निगम के नोटिस और एफआईआर से कांग्रेस और जनप्रतिनिधि डरने वाले नहीं है।

IBC24 की अन्य बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें