धर्मांतरण की क्लास…कौन कर रहा ब्रेनवॉश…CMS स्कूल में पढ़ाया जा रहा था धर्मांतरण का पाठ?

धर्मांतरण की क्लास...ब्रेनवॉश...CMS स्कूल में पढ़ाया जा रहा था धर्मांतरण का पाठ?lesson of conversion was being taught in CMS school?

Edited By: , May 17, 2022 / 10:27 AM IST

रिपोर्ट- नवीन कुमार सिंह, भोपाल: Bhopal Dharmantran mudda  हम अपने बच्चों का अच्छे से अच्छे स्कूल में दाखिला इसलिए कराते है कि वो पढ़ लिखकर उनका और अपने देश-प्रदेश का नाम रोशन करें। लेकिन अगर बच्चों के साथ पढ़ाई के नाम पर धोखा हो गणित भूगोल की जगह धर्मांतरण शिक्षा दी जाने लगे तो इसे आप क्या कहेंगे? जी हां ऐसा ही होने का आरोप लगा है भोपाल के एक स्कूल पर आरोपों के मुताबिक भोपाल के सीएमस स्कूल में धर्मांतरण की क्लास लग रही थी और भोले भाले मासूम बच्चों का ब्रेनवाश किया जा रहा था। और जैसा कि एक रिवाज बन गया है हर बात पर सियासत होती है, तो इस गंभीर मुद्दे पर भी राजनीति होना शूरू हो चुकी है।

Read More: मध्यप्रदेश सरकार ने देर रात किया प्रशासनिक अफसरों का तबादला, देखिए पूरी सूची

lesson of conversion in School मध्यप्रदेश में धर्मांतरण के मामले पर फिर राजनीति गर्मा गई है। इस बार धर्मांतरण का केंद्र राजधानी भोपाल है, लिहाजा धर्मांतरण के मुद्दे पर सियासत भी जमकर हो रही है। बीजेपी विधायक रामेश्वर शर्मा ने तो धर्मांतरण के मामले में उस स्कूल पर बुलडोजर चलाने की मांग की है, जिसमें प्रार्थना के नाम पर धर्मांतरण का खेल चल रहा था। हालांकि इस मामले में पुलिस ने फादर समेत 5 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं कांग्रेस ने बीजेपी के एक विधायक को घेरते हुए कहा कि यहीं बीजेपी ही धर्मांतरण करवाती है।

Read More: भाजपा ने 2023 चुनाव के लिए कसी कमर, तो कांग्रेस ने कसा तंज, बीजेपी ने कहा धरना-प्रदर्शन का नियम मिनी आपातकाल

असल में भोपाल में सामने आई धर्मांतरण की घटना के बाद मध्यप्रदेश के सभी मिशनरी स्कूल सरकार की रडार पर आ गए हैं। भोपाल के क्राइस्ट मेमोरियल स्कूल की घटना को लेकर गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने प्रदेश के सभी मिशनरी स्कूलों पर इंटेलिजेंस को निगरानी रखने का निर्देश दे दिया है।

Read More: सड़क पर BJP…किस करवट सियासत! ये प्रदर्शन वाकई जनता के हित में है या मात्र अपनी सियासत चमका रही पार्टी

स्कूल जहां बच्चों को आगे बढ़ने की प्रेरणा दी जाती है, जहां ये सिखाया जाता है कि ईश्वर एक हैं वहां किसी धर्मिक ग्रंथ और देवी देवता का का अपमान करना। जाहिर है समाज में ज़हर घोलने का काम किया जा रहा था। बहरहाल पुलिस ने सभी को गिरफ्तार कर लिया है। लेकिन इस मामले में राजनीतिक माइलेज लेने की होड़ सी लगी है।

Read More: छिंदवाड़ा : विवाह समारोह में खाना खाने के बाद बिगड़ी कई लोगों की तबियत, इलाज के दौरान 2 बच्चियों की मौत