Rote hue sadan se nikli vijaylaxmi sadho

सदन से रोते हुए बाहर निकली पूर्व मंत्री, जानें ऐसा क्या हुआ विधानसभा के अंदर

Rote hue sadan se nikli vijaylaxmi sadho मध्य प्रदेश विधानसभा बजट सत्र के दौरान पूर्व मंत्री विजयलक्षमी साधो सदन से रोते हुए निकलीं

Edited By :   March 17, 2023 / 01:50 PM IST

Rote hue sadan se nikli vijaylaxmi sadho: भोपाल। मध्य प्रदेश विधानसभा के बजट सत्र का 10वां दिन है। 15 मार्च को महू में हुए बवाल की आग विधानसभा तक पहुंच गई है। कल भी इस मुद्दे पर सदन हंगामें की भेंट चढ़ा तो तो आज फिर सदन में फिर से ये मुद्दा गूंजा। आज भी सदन की कार्यवाही शुरू होते ही जमकर हंगामा हुआ। इस दौरान पूर्व मंत्री विजयलक्ष्मी साधौ सदन में रो पड़ी। साधौ ने कहा कि आदिवासियों पर लगातार अत्याचार हो रहें है। इतना कहते ही विजयलक्षमी साधौ रोते हुए सदन से बाहर निकली।

Rote hue sadan se nikli vijaylaxmi sadho: विधानसभा में आज महू मामले में कांग्रेस के सदन से वॉकआउट के बाद पूर्व मंत्री विजय लक्ष्मी साधो बुरी तरह सिसक कर रोने लगी। आदिवासियों के मुद्दे पर सदन के अंदर बहस नहीं होने देने पर भावुक हो गई। सदन के अंदर पूर्व मंत्री विजयलक्ष्मी साधो भावुक हो गईं। साधो ने कहा कि कल मैं उस बेटी के घर गई। लड़की मेरे क्षेत्र की थी। सब में बहुत आक्रोश है। लड़की की हत्या हुई है। मुझे बॉडी के बारे में बताया गया। उस बाप ने चाहा बेटी कुछ बने। मज़दूरी कर बेटी को पढ़ाया। विजयलक्ष्मी साधो ने कहा कि लड़की के साथ बलात्कार के बाद हत्या की गई।

Rote hue sadan se nikli vijaylaxmi sadho: सरकार घमंड में चूर है। गरीब आदिवासी बच्ची का चरित्र हनन किया है। परिवार पर ही FIR की गई है। बच्चियों पर अत्याचार हो रहे हैं। मेरा निवेदन है कि उस बच्ची के ऊपर ज़्यादाती हुई है। मेरी प्रार्थना है सरकार से कि सच बताइए। उसके साथ मारपीट कर हालात बुरी कर दी गई। ये पांचवी घटना है। नेमवार में भी ये सब हुआ। आदिवासी संरक्षित नहीं है। सरकार विधानसभा में इनको उठाने नहीं दे रही है। इस दौरान विजय लक्ष्मी साधो ने CBI जांच की मांग की है। 

क्या है मामला

Rote hue sadan se nikli vijaylaxmi sadho: गौरतलब है कि इंदौर के पास स्थित महू के बडगोंदा में एक आदिवासी युवती की मौत के मौत हो गई। पुलिस के अनुसार युवती की मौत करंट लगने से हुई है। वहीं, युवती के परिजनों ने आरोप लगाया कि युवती से दुष्कर्म किया गया, उसके बाद उसकी हत्या कर दी गई। परिजनों और समाज के लोगों ने पुलिस चौकी पर पथराव किया। पुलिस की गाड़ियों में तोड़फोड़ कर दी। इसके बाद पुलिस ने बचाव में फायरिंग की, इससे एक युवक की मौत हो गई। इसके बाद इस मामले ने तूल पकड़ लिया है।

ये भी पढ़ें- H3N2 वायरस संक्रमण के चलते रद्द होंगी बोर्ड की परीक्षाएं? पालकों को सताने लगी बच्चों की चिंता

ये भी पढ़ें-  केंद्रीय कर्मचारियों को मिलने जा रहा बड़ा तोहफा! पीएम मोदी लेने जा रहे बड़ा फैसला

IBC24 की अन्य बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

 
Flowers