शुभमन गिल और गेंदबाजों ने भारत को दिलाई जीत , 3-0 से जीती श्रृंखला, इस तरह हुआ हार जीत का फैसला |

शुभमन गिल और गेंदबाजों ने भारत को दिलाई जीत , 3-0 से जीती श्रृंखला, इस तरह हुआ हार जीत का फैसला

शुभमन गिल और गेंदबाजों ने भारत को दिलाई जीत , 3-0 से जीती श्रृंखला, इस तरह हुआ हार जीत का फैसला

Edited By: , November 29, 2022 / 08:51 PM IST

Gill and bowlers lead India to victory: पोर्ट आफ स्पेन, 27 जुलाई । शुभमन गिल बारिश के कारण सिर्फ दो रन से करियर के पहले अंतरराष्ट्रीय शतक से वंचित रह गए लेकिन उनके नाबाद 98 रन और फिर गेंदबाजों के उम्दा प्रदर्शन से भारत ने वेस्टइंडीज को वर्षा से प्रभावित तीसरे और अंतिम एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में बुधवार को यहां डकवर्थ-लुईस पद्धति के तहत 119 रन से हराकर श्रृंखला में 3-0 से क्लीन स्वीप किया।

भारत की पारी के 24 ओवर पूरे होने के बाद बारिश के कारण मैच रुका और मुकाबले को 40 ओवर का कर दिया गया। दूसरी बार भारतीय पारी के 36 ओवर पूरे होने के बाद बारिश आई और मेहमान टीम की पारी को यहीं तीन विकेट पर 225 रन के स्कोर पर समाप्त कर दिया गया। वेस्टइंडीज को इसके बाद डकवर्थ-लुईस पद्धति के तहत 35 ओवर में 257 रन का लक्ष्य मिला।

गिल ने 98 गेंद में दो छक्कों और सात चौकों की मदद से नाबाद 98 रन की पारी खेली। उन्होंने कप्तान शिखर धवन (58) के साथ पहले विकेट के लिए 113 जबकि श्रेयस अय्यर (44) के साथ दूसरे विकेट के लिए 86 रन की साझेदारी की।

read more: ‘पीरियड्स के वक्त ना लगाएं पौधे, वरना वे जल जायेंगे’, शिक्षक ने छात्राओं के साथ किया कुछ ऐसा बर्ताव

Gill and bowlers lead India to victory: इसके जवाब में वेस्टइंडीज की टीम युजवेंद्र चहल (17 रन पर चार विकेट), मोहम्मद सिराज (14 रन पर दो विकेट) और शार्दुल ठाकुर (17 रन पर दो विकेट) की धारदार गेंदबाजी के सामने 26 ओवर में 137 रन पर सिमट गई। वेस्टइंडीज ने अपने अंतिम पांच विकेट सिर्फ 18 रन पर गंवाए। टीम की ओर से ब्रेंडन किंग (42) और कप्तान निकोलस पूरन (42) ही टिककर बल्लेबाजी कर पाए जबकि उसके चार बल्लेबाज खाता खोलने में भी नाकाम रहे।

वेस्टइंडीज ने अपनी पिछली पांच में से चार द्विपक्षीय एकदिवसीय श्रृंखलाएं 0-3 से गंवाई हैं। इस दौरान दो बार भारत जबकि एक बार पाकिस्तान और बांग्लादेश ने उसका सूपड़ा साफ किया।

लक्ष्य का पीछा करने उतरे वेस्टइंडीज की शुरुआत खराब रही और उसने दूसरे ओवर में ही काइल मायर्स (00) और शेमार ब्रूक्स (00) के विकेट गंवा दिए जबकि टीम के रनों का खाता भी नहीं खुला था। सिराज ने मायर्स को अपनी पहली ही गेंद पर बोल्ड करने के बाद तीसरी गेंद पर ब्रूक्स को पगबाधा किया।

किंग ने पांचवें ओवर में अक्षर पटेल पर छक्के के साथ पारी की पहली बाउंड्री लगाई जबकि सलामी बल्लेबाज शाई होप ने भी सिराज की गेंद को दर्शकों के बीच पहुंचाया।

होप हालांकि 33 गेंद में 22 रन बनाने के बाद चहल की गेंद को आगे बढ़कर खेलने की कोशिश में चूक गए और विकेटकीपर संजू सैमसन ने उन्हें स्टंप कर दिया।

पूरन एक रन के स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब सिराज ने उनका कैच टपका दिया।

read more: Chhattisgarhi News : बिहनिया ले जानव प्रदेस के हाल छत्तीसगढ़ी में | हमर बानी हमर गोठ | 28 July 2022

किंग ने प्रसिद्ध कृष्णा पर लगातार तीन चौकों के साथ दबाव कम करने का प्रयास किया लेकिन अक्षर की सीधी गेंद को चूककर बोल्ड हो गए। उन्होंने 37 गेंद की अपनी पारी में पांच चौके और एक छक्का मारा।

पूरन ने इसके बाद मोर्चा संभालते हुए दीपक हुड्डा की लगातार गेंदों पर चौका और छक्का मारा।

वेस्टइंडीज के रनों का शतक 18वें ओवर में पूरा हुआ।

कीसी कार्टी ने बेहद धीमी बल्लेबाजी की और 17 गेंद में पांच रन बनाने के बाद ठाकुर की गेंद को विकेटों पर खेल गए।

पूरन भी इसके बाद कृष्णा की गेंद पर मिड आन पर धवन को कैच दे बैठे जिससे वेस्टइंडीज की जीत की उम्मीदों को बड़ा झटका लगा। उन्होंने 32 गेंद का सामना करते हुए पांच चौके और एक छक्का मारा।

ठाकुर ने अगले ओवर में अकील हुसैन (01) को मिड आन पर धवन के हाथों कैच कराके वेस्टइंडीज को सातवां झटका दिया।

चहल ने कीमो पॉल को खाता खोले बिना पवेलियन भेजा और फिर हेडन वाल्श जूनियर (10) को भी स्लिप में धवन के हाथों कैच कराया। उन्होंने जेडन सील्स (00) को गिल के हाथों कैच कराके भारत को जीत दिलाई।

इससे पहले धवन ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया और गिल के साथ मिलकर टीम को शानदार शुरुआत दिलाई।

धवन ने जेसन होल्डर पर चौके के साथ खाता खोला जबकि गिल ने जेडन सील्स पर चौके के साथ अपनी पारी की शुरुआत की।

दोनों सलामी बल्लेबाजों ने शुरुआत में सतर्कता दिखाई और 12वें ओवर में टीम के रनों का अर्धशतक पूरा किया।

read more: रणवीर सिंह की न्यूड फोटोशूट पर छिड़ी बहस, कपिल शर्मा शो की इस एक्ट्रेस ने किया सपोर्ट

गिल ने हेडन वाल्श (57 रन पर दो विकेट) पर पारी का पहला छक्का जड़ा जबकि धवन ने भी इस स्पिनर पर चौका मारा। उन्होंने कीमो पॉल की गेंद पर दो रन के साथ 62 गेंद में अर्धशतक पूरा किया।

भारत के रनों का शतक 20वें ओवर में पूरा हुआ। गिल और धवन की श्रृंखला में यह दूसरी शतकीय साझेदारी थी।

गिल ने भी सील्स की गेंद पर एक रन के साथ 60 गेंद में अर्धशतक पूरा किया।

धवन हालांकि हेडन वाल्श की गुगली पर बड़ा शॉट खेलने की कोशिश में गेंद को हवा में लहरा बैठे और मिड विकेट पर वेस्टइंडीज के कप्तान निकोलस पूरन ने कैच लपकने में कोई गलती नहीं की। उन्होंने 74 गेंद की अपनी पारी में सात चौके जड़े।

धवन इस पारी के दौरान वेस्टइंडीज के खिलाफ 1000 रन पूरे करने वाले दुनिया के 22वें बल्लेबाज भी बने।

मैच दोबारा शुरू होने पर गिल और अय्यर ने वाल्श के पहले ओवर में ही छक्के जड़ दिए। गिल ने सील्स पर लगातार दो चौके मारे जबकि अय्यर ने होल्डर और अकील हुसैन (43 रन पर एक विकेट) की गेंद को बाउंड्री के दर्शन कराए।

अय्यर हालांकि हुसैन की गेंद पर लांग आन पर पॉल को कैच देकर पवेलियन लौटे। उन्होंने 34 गेंद का सामना करते हुए चार चौके और एक छक्का मारा।

सूर्यकुमार यादव छह गेंद में आठ रन बनाने के बाद वाल्श का दूसरा शिकार बने।

इसके कुछ देर बाद दोबारा बारिश आ गई और भारतीय पारी को वहीं समाप्त करना पड़ा।