बीड़ी का बंडल चुराकर कश लगा रहे थे वीरेंद्र सहवाग, तभी अचानक आ गई मां, फिर किया ऐसा हाल

Virender Sehwag was puffing after stealing a bundle of bidi, then suddenly the mother came, then did such a situation

Edited By: , October 21, 2021 / 02:15 PM IST

नई दिल्लीः टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग अपने बैटिंग के लिए जाने जाते है। जिस समय वे क्रीज पर होते थे, उस समय अच्छे-अच्छे गेंदबाजों की हवा निकल जाती थी। मैदान पर लगातार चौकों-छक्कों के बारिश होती रहती थी। अभी वह क्रिकेट मैदान से दूर जरूर है, लेकिन कमेंट्री करते जरुर दिख जाते है। इन सबसे इतर आज पूर्व सलामी बल्लेबाज सहवाग जन्मदिन है। तो चलिए इस मौके पर सहवाग के बचपन की ओर झांकते है।

READ MORE : अच्छी खबर: छत्तीसगढ़ के सभी लोग उत्तराखण्ड में सुरक्षित, सभी 55 यात्रियों को किया गया शिफ्ट 

सहवाग बचपन से ही काफी शरारती हैं। बचपन में उन्होंने ऐसी-ऐसी शरारतें की हैं जिसके लिए उनकी मां ने उन्हें चप्पल तक से पीटा है। दरअसल, उन्होंने एक बार पिता का बीड़ी का बंडल चुरा लिया था। बीड़ी चुराने के बाद वीरू और उनका कजिन घर के पास बने हॉस्पिटल की दीवार पर बैठकर बीड़ी के कश लगाने लगे। जैसे ही सहवाग की मां को इस बारे में पता चला उन्होंने उनकी चप्पलों और डंडों से खूब पिटाई की।

READ MORE : प्रियंका गांधी फिर हिरासत में, UP पुलिस ने धारा 144 का हवाला देकर आगरा जाने से रोका 

बता दें कि टेस्ट क्रिकेट में भारत की ओर से तिहरा शतक जड़ने के रिकार्डधारी सहवाग ने अब तक 228 एकदिवसीय मैच में 13 शतक और 36 अर्धशतकों की मदद से 7380 रन बनाए हैं। उनका एकदिवसीय बैटिंग औसत 34.65 का है। एकदिवसीय मैचों में उनका सर्वाधिक स्कोर 219 रन है। दिलचस्प तथ्य यह है कि सहवाग की आक्रामक खेल शैली वनडे क्रिकेट के अनुकूल है लेकिन वह टेस्ट मैचों में अधिक सफल रहे हैं जिसमें उन्होंने 72 टेस्ट मैचों में 52.50 के औसत से 17 शतक और 19 अर्धशतकों समेत 6248 रन बनाये हैं।