गेहूं की इन तीन नई किस्मों से किसान होंगे मालामाल, पैदावार और इसकी क्या है खासियत.. जानिए

With these three new varieties of wheat, farmers will be rich, yield and what is its specialty .

Edited By: , September 18, 2021 / 03:51 PM IST

करनाल। भारतीय गेहूं एवं जौ अनुसंधान संस्थान के ​कृषि वैज्ञानिकों ने गेहूं की तीन नई किस्में विकसित की हैं। इसके व्यवसायिक इस्तेमाल से किसानों की आय बढ़ेगी, तो ये बीमारी रोधी और पोषण से भरपूर होंगी।

पढ़ें- पाकिस्तान के साथ पाक मीडिया में भी चढ़ा तालिबानी रंग.. न्यूज एंकर ने LIVE डिबेट शो में पहन लिया हिजाब.. वीडियो वायरल 

डीडब्ल्यूआर ने गेहूं की तीन नई किस्में डीबीडब्ल्यू-296, डीबीडब्ल्यू-327 और डीबीडब्ल्यू-332 रिलीज की हैं।

पढ़ें- इस शेयर ने दिया गजब का रिटर्न, 7.13 रुपए वाला स्टॉक 718 हुआ, 1 लाख बन गया 10 करोड़

बता दें कि ये तीनों नई किस्में हरियाणा, पंजाब, पश्चिमी उत्तर प्रदेश के लिए उत्पादन और पोषक तत्वों के लिहाज से उत्तम मानी गई हैं, तो पहाड़ी क्षेत्रों उत्तराखंड और जम्मू-कश्मीर में भी इस किस्म के अच्छे परिणाम सामने आए हैं।

पढ़ें- सच्चे और ईमानदार होते हैं 4 राशि वाले, जैसे हैं.. वैसे ही दिखते हैं.. कभी नहीं देते धोखा

हरियाणा के करनाल जिले में स्तिथ गेहूं और जो अनुसंस्थान में विकसित नई किस्‍मों में कई अच्‍छी बातें हैं. खास बात यह है कि तीनों ही किस्में पीला रतुआ रोधी हैं।

पढ़ें- नए साल से 1 माह का GST रिटर्न दाखिल नहीं करने पर जमा नहीं कर सकेंगे GSTR-1

इनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता बहुत अच्छी है. ऐसे में किसानों को इन किस्मों को बीमारियों से बचाव के लिए पेस्टीसाइड पर खर्च भी नहीं करना पड़ेगा।