अखिलेश यादव की अपील! भाजपा से रहें सावधान, वोट की खातिर वापस लिए गए उसने कृषि कानून

भाजपा से रहें सावधान, वोट की खातिर वापस लिए गए उसने कृषि कानून ! Beware of BJP, it has withdrawn farm laws for the sake of votes: Akhilesh

: , January 28, 2022 / 08:28 PM IST

मुजफ्फरनगर: Beware of BJP समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ने भारतीय जनता पार्टी से किसानों को सावधान रहने की अपील करते हुए शुक्रवार को कहा कि सत्तारूढ़ दल (भाजपा) की सरकार ने सिर्फ वोट की खातिर अपने विवादास्पद कृषि कानून वापस लिए हैं। उन्होंने किसानों को आश्वस्त किया कि यदि उनके (सपा के) गठबंधन की सरकार बनी तो वे राज्य में इस तरह के किसी किसान विरोधी कानून को लागू नहीं होने देंगे। पूर्व मुख्यमंत्री ने राष्ट्रीय लोक दल (रालोद) प्रमुख जयंत चौधरी के साथ एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए यह कहा। रालोद, सपा के साथ गठबंधन कर उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव लड़ रहा है।

Read More: बेटी से बलात्कार के आरोपी पिता को आजीवन कारावास की सजा, स्पेशल फास्ट ट्रैक कोर्ट का फैसला 

Beware of BJP विधानसभा चुनाव से पहले, भाजपा पश्चिमी उत्तर प्रदेश में जाट मतदाताओं से संपर्क साध रही है। इस क्षेत्र से समुदाय के सदस्यों ने केंद्र के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली की सीमाओं पर साल भर चले प्रदर्शन में हिस्सा लिया था। भाजपा नेताओं ने रालोद प्रमुख से भगवा पार्टी से हाथ मिलाने को भी कहा था। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बुधवार को दिल्ली में जाट नेताओं के साथ एक बैठक की थी। जयंत ने कहा कि सपा के साथ उनकी पार्टी का गठबंधन बहुत मजबूत है और किसानों के हितों के लिए काम करने का लक्ष्य रखता है।

Read More: ‘तीन टॉप खिलाड़ियों संग बिताई रात’, इंजीनियरिंग छात्रा से फेमस पोर्न स्टार बनी शोना का बड़ा खुलासा 

अखिलेश ने कहा, ‘‘भाजपा ने किसानों की आय दोगुनी करने का वादा किया था, लेकिन वह किसान विरोधी तीन कानून ले आई। किसानों ने सरकार को इन कानूनो को वापस लेने के लिए मजबूर कर दिया। भाजपा ने वोट की खातिर इन कानूनों को वापस लिया। भाजपा एक ऐसी पार्टी है जो कोई चीज कहे बगैर कानून ले आती है। ’’ पूर्व मुख्यमंत्री ने जोर देते हुए कहा कि सत्ता में आने पर उनकी पार्टी राज्य में इस तरह का कोई कानून लागू नहीं करेगी। उन्होंने कहा कि जयंत, पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह, पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव और दिवंगत किसान नेता महेंद्र सिंह टिकैत द्वारा किसानों के हितों से जुड़े मुद्दों की पैरोकारी को आगे बढ़ा रहे हैं।

Read More: यहां बाल आश्रम से गायब 6 लड़कियां मिली, एक होटल से..एक बस से तो 4 अन्य ट्रेन से बरामद 

जयंत ने कहा कि पहले लोगों को संदेह था कि क्या दोनों दलों के बीच गठबंधन होगा। उन्होंने अपने दादा चौधरी चरण सिंह को याद करते हुए कहा, ‘‘हमारा मेल काफी पहले हो गया था। हम उप्र का विकास करना चाहते हैं और गठबंधन किया क्योंकि हम चौधरी चरण सिंह की लड़ाई को आगे ले जाना चाहते हैं।’’ अखिलेश संवाददाता सम्मेलन के लिए मुजफ्फरनगर देर से पहुंचे। उन्होंने इससे पहले दिन में दावा किया था कि वह दिल्ली में फंस गये थे क्योंकि उनके हेलीकॉप्टर को उड़ने की अनुमति नहीं दी गई। उन्होंने एक ट्वीट में पृष्ठभूमि में एक हेलीकॉप्टर के साथ अपनी तस्वीर साझा की। उन्होंने ट्वीट में कहा, ‘‘मेरे हेलीकॉप्टर को अभी भी बिना किसी कारण बताए दिल्ली में रोककर रखा गया है और मुजफ्फरनगर नहीं जाने दिया जा रहा है। जबकि भाजपा के एक शीर्ष नेता अभी यहाँ से रवाना हुए हैं। हारती हुई भाजपा की ये हताशा भरी साज़िश है। जनता सब समझ रही है।’’

Read More: सड़क किनारे संदिग्ध अवस्था में मिली सरकारी स्कूल के शिक्षक की लाश, गला घोटकर उतारा मौत के घाट