पुश्तैनी संपत्ति के लिए इस शख्स ने परिवार के 5 लोगों को उतारा मौत के घाट, ऐसे हुआ खुलासा

गाजियाबाद पुलिस उस लड़के के शव की तलाश कर रही है जिसकी कथित तौर पर उसके ही चाचा ने संपत्ति विवाद में अपहरण के बाद हत्या की है।

Edited By: , September 26, 2021 / 01:03 PM IST

Man arrested for killing five family members

गाजियाबाद (उप्र)। गाजियाबाद पुलिस उस लड़के के शव की तलाश कर रही है जिसकी कथित तौर पर उसके ही चाचा ने संपत्ति विवाद में अपहरण के बाद हत्या की है।

पुलिस ने बताया कि 15 अगस्त को ब्रिजेश त्यागी ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई की उसके बेटे रिशु का करीब एक सप्ताह से पता नहीं चल रहा है। इसके एक सप्ताह बाद 22 अगस्त को उन्होंने प्राथमिकी दर्ज कराई कि संपत्ति विवाद में उनके बेटे का कुछ करीबी रिश्तेदारों ने ही 14 दिन पहले अपहरण कर लिया है।

ये भी पढ़ें : दिव्यांग से रेप…वार…पलटवार! कैसे सुरक्षित रह पाएंगी बेटियां, जब रक्षक बन जाए भक्षक?

पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) इराज राजा ने बताया कि परिस्थिति जन्य सबूतों और इलेक्ट्रॉनिक निगरानी के आधार पर पुलिस दल ने मुरादनगर के बसंतपुर गांव निवासी लीलू (त्यागी के छोटे भाई), संभल जिले के राहुल और हापुड़ जिले के सुरेंद्र को बृहस्पतिवार को गिरफ्तार किया।

उन्होंने बताया कि पूछताछ में मुख्य आरोपी ने रिशु का अपहरण कर हत्या करने और सुरेंद्र, विक्रांत, मुकेश और राहुल की मदद से शव बुलंदशहर में नहर में फेंकने की बात स्वीकार की।

ये भी पढ़ें :  विधानसभा चौक के पास नकली शराब बनाने की अवैध कारखाने का भांडाफोड़, ढाई लाख रुपए की शराब जब्त

पुलिस के मुताबिक लीलू ने कहा, ‘‘करीब 20 साल पहले वर्ष 2001 में मैंने अपने बड़े भाई सुधीर त्यागी की हत्या की और उसके कुछ महीने बार उनकी आठ साल की बेटी पायल को जहर देकर मारा डाला। इसके तीन साल बाद मैंने बड़े भाई की बड़ी बेटी पारुल (16) की हत्या की और शव हिंडन नदी में फेंक दिया। आठ साल पहले मैंने बड़े भाई ब्रिजेश के बेटे निशु की हत्या की और उसका शव हिंडन नदी में फेंक दिया।’’

ये भी पढ़ें : IBC24 की खबर का असर! खबर प्रसारित किए जाने के बाद शिक्षा विभाग ने जर्जर स्कूल भवनों के मरम्मत के लिए दिए निर्देश

पुलिस के मुताबिक परिवार के सभी सदस्यों की हत्या लीलू (45) ने पैतृक जमीन के लिए की जिसकी कीमत करीब पांच करोड़ रुपये है।

ये भी पढ़ें : ‘कका अभी जिंदा हे’ जानिए सीएम भूपेश बघेल ने कार्यक्रम के दौरान क्यों कही ये बात