कीव के बाद अब खारकीव में जंग हारा रूस ! पुतिन के सैनिकों की वापसी, यूक्रेनी सेना ने किया ऐलान

यूक्रेन के जनरल स्टाफ ने कहा कि रूसी सैनिक उत्तरपूर्वी शहर खारकीव से पीछे हट रहे हैं और अब अपना पूरा ध्यान आपूर्ति मार्ग की सुरक्षा पर केंद्रित कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि रूसी सेना ने पूर्वी इलाके दोनेत्स्क में मोर्टार, तोपों के साथ-साथ हवाई हमले शुरू किए हैं ताकि यूक्रेनियाई सैनिकों को निशाना बनाया जा सके।

Edited By: , May 15, 2022 / 12:47 PM IST

Russia ukraine war update today : कीव: रूस और यूक्रेन के बीच लगभग तीन महीने से जारी लड़ाई का कोई परिणाम निकलता दिखाई नहीं दे रहा है। इस बीच यूक्रेनी सेना ने दावा किया है कि रूस उसके दूसरे सबसे बड़े शहर खारकीव से अपने सैनिकों को हटा रहा है। खारकीव रूसी सीमा के नजदीक स्थित यूक्रेन का दूसरा सबसे बड़ा शहर है। रूसी सेना 24 फरवरी से ही खारकीव पर नियंत्रण हासिल करने के लिए बमबारी कर रही थी। हालांकि, यूक्रेनी सैनिकों के जबरदस्त प्रतिरोध और आम नागरिकों के विरोध के कारण रूस को मुंह की खानी पड़ी है। यूक्रेन ने दावा किया है कि पूरे खारकीव पर उसकी सेना का नियंत्रण हो चुका है और रूसी सैनिकों को पश्चिम में और दूर तक ढकेला जा चुका है।

रूसी सेना खारकीव से पीछे हटी

यूक्रेन के जनरल स्टाफ ने कहा कि रूसी सैनिक उत्तरपूर्वी शहर खारकीव से पीछे हट रहे हैं और अब अपना पूरा ध्यान आपूर्ति मार्ग की सुरक्षा पर लगा रही है। उन्होंने कहा कि रूसी सेना ने पूर्वी इलाके दोनेत्स्क में मोर्टार, तोपों के साथ-साथ हवाई हमले शुरू किए हैं ताकि यूक्रेनियाई सैनिकों को निशाना बनाया जा सके और उनकी मोर्चाबंदी को नष्ट किया जा सके। यूक्रेन के रक्षामंत्री ओलेक्सी रेजनिकोव ने कहा कि यूक्रेन दीर्घकालिक युद्ध के नए दौर में प्रवेश कर रहा है।

read more: सूर्य ने बदली अपनी चाल, इन राशियों के जातकों को रहना होगा सतर्क

यूक्रेन ने रूसी सेना को पीछे खदेड़ा

Russia lost the war in Kharkiv: वाशिंगटन स्थित थिंक टैंक इंस्टीट्यूट फॉर द स्टडी ऑफ वॉर ने कहा कि ऐसा लगता है कि यूक्रेन ने खारकीव की लड़ाई जीत ली है। यूक्रेनी बलों ने पहले रूसी सैनिकों को शहर की घेराबंदी करने से रोका। इस कारण वे खारकीव पर कब्जा नहीं कर पाए और फिर उन्हें शहर के चारों और से बाहर खदेड़ दिया। इसका मतलब है कि यूक्रेनी तोपखाने अब वोवचांस्क शहर को निशाना बना सकते हैं। इस शहर से होकर रूसी सेना की सप्लाई लाइन गुजरती है, जो डोनबास में हथियार और खाने-पीने के सामान को पहुंचाती है।

बिजली, पानी, गैस सप्लाई जल्द होगी बहाल

खारकीव के मेयर इहोर तेरखोव ने बीबीसी को बताया कि रूसी सैनिक केवल एक बार उत्तर-पूर्वी शहर के एक छोटे से हिस्से में प्रवेश करने में कामयाब रहे थे। हालांकि, उन्हें कुछ ही दिनों में बाहर खदेड़ दिया गया था। उन्होंने कहा कि खारकीव शहर के करीब मौजूद रूसी सैनिक लगातार गोलीबारी कर रहे थे। लेकिन अब जब वे पीछे हट गए थे, ‘लोग धीरे-धीरे शहर में वापस आ रहे हैं। हम सभी नागरिकों को पानी, गैस और बिजली की सप्लाई को बहाल कर रहे हैं। हालांकि, दुर्भाग्य से, कई आवासीय भवन नष्ट या क्षतिग्रस्त हो गए हैं। इसलिए, भविष्य में हमें बहुत बड़ा पुनर्निर्माण करना होगा।

read more: सुपरमार्केट में फायरिंग, 10 की मौत, आरोपी गिरफ्तार, नस्लीय घटना के आधार पर हो रही जांच

रूसी सेना के हमलों से छोटे शहरों को खतरा ज्यादा

क्षेत्रीय गवर्नर ओलेह सिनेगुबोव ने टेलीग्राम पर एक पोस्ट शेयर कर कहा कि पिछले कई दिनों से खारकीव पर कोई गोलीबारी नहीं हुई है। उन्होंने कहा कि रूसी सैनिक बड़े शहरों को छोड़कर छोटे शहरों पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं। ऐसे में छोटी बस्तियों को रूसी हमले का खतरा ज्यादा है।