खूंखार जनजाति, इसानों की हत्या का है शौक.. जानिए इनके बारे में

dreaded tribes do not miss even the killing of humans .. know about them

Edited By: , September 28, 2021 / 04:12 PM IST

इथिपोया।  दुनिया में रहने वाली आदिवासी प्रजातियां आज भी हजारों साल पुरानी परंपराओं को निभाती हैं। ये जनजातियां जिन जंगलों में रहती हैं उन पर इनका पूरा अधिकार होता है।

पढ़ें- बिग बॉस-15 में दिखेंगी रिया चक्रवर्ती! अटकलें काफी तेज

वहां की सरकारें भी इन प्रजातियों के अधिकारों में दखल नहीं देती हैं। दुनिया में इन जनजातियों में कुछ बेहद खतरनाक होती हैं। इन्हीं में से एक इथियोपिया की खूंखार मुर्सी जनजाति है।

पढ़ें- स्कूल की प्रधानाध्यापिका को सजा-ए-मौत, पैगंबर मुहम्मद को इस्लाम का अंतिम पैगंबर नहीं मानने की सजा

इथियोपिया की खूंखार मुर्सी जनजाति के लोगों के लिए किसी की हत्या करना मर्दानगी की निशानी मानी जाती है। ये जनजाति दक्षिण इथियोपिया और सूडान बॉर्डर की ओमान घाटी में रहती है। इन लोगों के पास ऐसे-ऐसे हथियार होते हैं जिससे ये किसी को पल भर में मार सकते हैं। इसलिए इस जनजाति को सबसे खतरनाक माना जाता है।

पढ़ें- IAS अफसर का धर्म प्रचार करता वीडियो वायरल, जांच के लिए SIT गठित

मुर्सी जनजाति अपने अजीबोगरीब रस्मों रिवाज के लिए भी दुनियाभर में जानी जाती है।  इस जनजाति की महिलाओं के निचले होंठ में बॉडी मॉडिफिकेशन प्रक्रिया के तहत लकड़ी या मिट्टी की डिस्क पहनाई जाती है। ऐसा इसलिए किया जाता है कि ये लोग बुरी नजर से बच सकें। उनका मानना है कि इससे महिलाओं की सुंदरता कम हो जाती है और वह कम आकर्षक लगती हैं।

पढ़ें- राकेश टिकैत ने मीडिया हाउस को दी धमकी, अगला नंबर मीडिया हाउस का है.. बीजेपी को बताया बीमारी 

मुर्सी समुदाय की आबादी करीब 10 हजार है। इस जनजाति के लोगों का मानना है कि ‘किसी दूसरे को मारे बिना जिंदा रहने का कोई मतलब नहीं है और इससे अच्छा है कि खुद मर जाएं। मुर्सी जनजाति के लोगों ने सैकड़ों लोगों को मार डाला है। अगर कोई इनकी इजाजत के बिना इनके क्षेत्र और समुदाय की तरफ चला जाता है, तो उसे ये लोग मार देते हैं।