हमास ने चार वर्षीय एबिगेल एडन को रिहा किया: बाइडन

हमास ने चार वर्षीय एबिगेल एडन को रिहा किया: बाइडन

  •  
  • Publish Date - November 27, 2023 / 11:14 AM IST

नानटुकेट (अमेरिका), 27 नवंबर (एपी) अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने हमास द्वारा बंधक बनाई गई चार वर्षीय अमेरिकी बच्ची एबिगेल एडन को इजराइल-हमास युद्ध विराम समझौते के तहत रिहा किए जाने की रविवार को पुष्टि की।

बाइडन ने रविवार को संवाददाताओं से कहा, ‘‘शुक्र है कि वह घर लौट आई है। काश, मैं भी उसे गोद में उठाने के लिए वहां होता।’’

एबिगेल के पास इजराइल और अमेरिका की दोहरी नागरिकता है। बाइडन ने कहा कि वह ‘‘इजराइल में सुरक्षित’’ है।

एबिगेल इजराइल-हमास के बीच युद्ध विराम समझौते के तहत रिहा की जाने वाली पहली अमेरिकी नागिरक है।

अमेरिकी राष्ट्रपति के आधिकारिक आवास एवं कार्यालय ‘व्हाइट हाउस’ ने बाद में बताया कि राष्ट्रपति ने अमेरिका एवं इजराइल में रह रहे बच्ची के परिवार के सदस्यों से फोन पर बात की। उन्होंने इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू से भी बात की।

हमास के आतंकवादियों ने सात अक्टूबर को इजराइल पर अप्रत्याशित हमले के दौरान एबिगेल के माता-पिता की हत्या कर दी थी। एबिगेल जान बचाने के लिए भागकर अपने पड़ोसी के घर चली गई थी। पड़ोस में रहने वाली हागर नामक महिला अपने तीन बच्चों के साथ एबिगेल को अपने साथ कहीं ले गई थी, लेकिन फिर वे पांचों लापता हो गए थे। बाद में पुष्टि हुई कि उन सभी को बंधक बना लिया गया है। हमास के आतंकवादी इजराइल पर हमले के बाद जिन 200 से अधिक लोगों को बंधक बनाकर गाजा ले गए थे, एबिगेल उन्हीं लोगों में शामिल थी।

एबिगेल के परिवार के दो सदस्यों ने बाइडन, कतर सरकार और बच्ची को छुड़ाने में मदद करने वाले अन्य लोगों को धन्यवाद दिया।

एबिगेल की रिश्तेदारों लिज हिर्श नफ्ताली और नोआ नफ्ताली ने कहा, ‘‘आज की रिहाई साबित करती है कि यह संभव है। हम सभी बंधकों को घर वापस ला सकते हैं। हमें प्रयास जारी रखना होगा।’’

हमास ने रविवार को 17 और बंधकों को रिहा किया। चार दिवसीय संघर्ष विराम के तहत तीसरी बार बंधकों की रिहाई हुई है। कुछ बंधकों को सीधे तौर पर इजराइल को सौंप दिया गया जबकि अन्य मिस्र के रास्ते रवाना हुए। इजराइल की सेना ने कहा कि एक बंधक को विमान के जरिए सीधे अस्पताल ले जाया गया।

‘व्हाइट हाउस’ के अनुसार, बाइडन और नेतन्याहू ने सभी बंधकों की रिहाई नहीं होने तक प्रयास जारी रखने पर सहमति जताई। बाइडन ने वार्ता को दिन-प्रतिदिन, घंटा-दर-घंटा की प्रक्रिया बताया और कहा कि वह सभी बंधकों की रिहाई होने तक काम करते रहेंगे।

बाइडन ने कहा कि युद्ध विराम समझौता ‘‘लोगों की जिंदगियां बचा रहा है।’’

समझौते के तहत इजराइल ने रविवार को 39 फलस्तीनियों को रिहा किया। युद्ध विराम के अंतिम दिन सोमवार को चौथी बार कैदियों एवं बंधकों की अदला-बदली होने की उम्मीद है। इस युद्ध विराम के दौरान कुल 50 बंधकों और 150 फलस्तीनियों की रिहाई होनी है। जिन लोगों की रिहाई होनी है वे सभी महिलाएं और नाबालिग हैं।

नेतन्याहू ने बाइडन से बात करने के बाद एक वीडियो बयान जारी किया। उन्होंने एबिगेल को घर लाने की खुशी के साथ-साथ उसके माता-पिता के मारे जाने के दुःख के बारे में भी बात की। उन्होंने कहा, ‘‘उसके माता-पिता नहीं हैं, लेकिन पूरा देश उसका है जो उसे गले लगाता है और हम उसकी सभी जरूरतों का ख्याल रखेंगे।’’

नेतन्याहू ने दोहराया कि प्रत्येक अतिरिक्त 10 बंधकों की रिहाई के लिए युद्ध विराम की अवधि को एक दिन आगे बढ़ाया जा सकता है, लेकिन उन्होंने साथ ही कहा कि यह अवधि समाप्त होते ही हमास के खिलाफ फिर से ‘‘पूरी ताकत के साथ’’ युद्ध शुरू किया जाएगा।

भाषा

सिम्मी नरेश

नरेश