WHO ने भारत बायोटेक से कोवैक्सीन के संबंध में मांगा ‘अतिरिक्त स्पष्टीकरण’, अंतिम मूल्यांकन 3 नवंबर को

डब्ल्यूएचओ ने भारत बायोटेक से कोवैक्सीन के संबंध में 'अतिरिक्त स्पष्टीकरण' मांगा

Edited By: , October 27, 2021 / 01:09 PM IST

WHO on covaccine from Bharat Biotech : संयुक्त राष्ट्र/जिनेवा, 26 अक्टूबर (भाषा) विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के तकनीकी सलाहकार समूह ने मंगलवार को भारत के स्वदेश निर्मित कोविड रोधी टीके ‘कोवैक्सीन’ को आपातकालीन उपयोग की सूची में शामिल करने के लिए अंतिम ”लाभ-जोखिम मूल्यांकन” करने के वास्ते भारत बायोटेक से ”अतिरिक्त स्पष्टीकरण” मांगा। तकनीकी सलाहकार समूह अब अंतिम मूल्यांकन के लिए तीन नवंबर को बैठक करेगा।

read more: Police SI Recruitment 2021: पुलिस सब इं‍स्‍पेक्‍टर के 2213 पदों पर भर्ती, परीक्षा की तिथियां जारी, देखें पूरा शेड्यूल

कोवैक्सीन को विकसित करने वाली हैदराबाद स्थित भारत बायोटेक कंपनी ने टीके को आपातकालीन उपयोग सूची (ईयूएल) में शामिल करने के लिए 19 अप्रैल को डब्ल्यूएचओ को ईओआई (रुचि अभिव्यक्ति) प्रस्तुत की थी। तकनीकी सलाहकार समूह ने मंगलवार को भारत के स्वदेशी टीके को आपातकालीन उपयोग सूची में शामिल करने के लिए कोवैक्सीन के आंकड़ों की समीक्षा करने के लिए बैठक की।

read more: डब्ल्यूएचओ ने भारत बायोटेक से कोवैक्सीन के संबंध में ‘अतिरिक्त स्पष्टीकरण’ मांगा

कोवैक्सीन को आपातकलीन उपयोग की सूची में शामिल करने के संबंध में पीटीआई-भाषा की तरफ से ईमेल के माध्यम से पूछे गए एक सवाल के जवाब में डब्ल्यूएचओ ने कहा, ‘‘तकनीकी सलाहकार समूह ने आज (मंगलवार को) बैठक की और फैसला किया कि टीके के वैश्विक उपयोग के मद्देनजर अंतिम लाभ-जोखिम मूल्यांकन के वास्ते निर्माता से अतिरिक्त स्पष्टीकरण मांगे जाने की जरूरत है।’’

इसने कहा कि समूह को निर्माता से यह स्पष्टीकरण इस सप्ताह के अंत तक मिलने की संभावना है जिस पर तीन नवंबर को बैठक करने का लक्ष्य है।