शिवसेना सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने दिया इस पद से इस्तीफा, बोलीं- जब सदन से ही बाहर कर दिया तो…

शिवसेना सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने संसद के मानसून सत्र में 11 अन्य लोगों के साथ राज्यसभा से निलंबित होने के बाद संसद टीवी के एक शो के लिए एंकर के पद से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने राज्यसभा के सभापति वेंकैया नायडू को एक पत्र लिखकर इसका कारण भी बताया है।

: , December 5, 2021 / 05:51 PM IST

नई दिल्ली। शिवसेना सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने संसद के मानसून सत्र में 11 अन्य लोगों के साथ राज्यसभा से निलंबित होने के बाद संसद टीवी के एक शो के लिए एंकर के पद से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने राज्यसभा के सभापति वेंकैया नायडू को एक पत्र लिखकर इसका कारण भी बताया है।

read more: सांसद ने लगाया बड़ा आरोप, BJP ने पैसे और मंत्री पद का लालच दिया, बोले- ऐसी कोई नोट नहीं जो मुझे खरीद सके
सभापति वेंकैया नायडू को लिखे एक पत्र में उन्होंने कहा, ‘यह बहुत दुख के साथ कहना पड़ रहा है कि मैं संसद टीवी के शो ‘मेरी कहानी’ के एंकर के रूप में पद छोड़ रही हूं, मैं ऐसी जगह पर किसी पद पर रहने के लिए तैयार नहीं हूं, जहां मेरे प्राथमिक अधिकार को ही छीना जा रहा है। यह हम 12 सांसदों के मनमाने निलंबन के कारण हुआ है, इसलिए, जितना मैं इस शो के करीब थी, उतना ही मुझे दूर जाना पड़ रहा है।’

उन्होंने आगे लिखा कि ‘इस निलंबन से मेरा सांसद ट्रैक रिकॉर्ड भी खराब हुआ है, मुझे लगता है कि अन्याय हुआ है, लेकिन अगर सभापति की नजर में ये जायज है तो मुझे इसका सम्मान करना होगा’

read more: ओमीक्रोन के लिए वैज्ञानिक कोरोना वायरस के टीके को कैसे अपडेट कर सकते हैं?
गौरतलब है कि अगस्त में संसद के पिछले सत्र में हंगामा करने और सदन की कार्यवाही में बाधा डालने के कारण 12 विपक्षी सांसदों को पूरे शीतकालीन सत्र के लिए राज्यसभा से निलंबित कर दिया गया था, विपक्ष ने निलंबन को उच्च सदन द्वारा ‘अलोकतांत्रिक और प्रक्रिया के सभी नियमों का उल्लंघन’ करार दिया।

बता दें कि निलंबित सांसदों में कांग्रेस के छह, तृणमूल कांग्रेस और शिवसेना के दो-दो और सीपीआई और सीपीआई (एम) के एक-एक सांसद शामिल हैं। फिलहाल, ये लोग संसद परिसर के अंदर महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने दिन भर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।