निर्धारित अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर रोक बरकरार.. अब 28 फरवरी तक बढ़ा प्रतिबंध

डीजीसीए ने निर्धारित अंतरराष्ट्रीय यात्री उड़ानों पर रोक 28 फरवरी तक बढ़ाई

: , January 19, 2022 / 03:02 PM IST

नई दिल्ली, 19 जनवरी (भाषा) विमानन नियामक डीजीसीए ने देश में निर्धारित अंतरराष्ट्रीय यात्री उड़ानों पर जारी रोक 28 फरवरी तक बढ़ा दी है।कोरोना वायरस महामारी के कारण देश में निर्धारित अंतरराष्ट्रीय यात्री उड़ानें 23 मार्च, 2020 से निलंबित हैं। हालांकि, एयर बबल व्यवस्था के तहत जुलाई 2020 से भारत और लगभग 40 देशों के बीच विशेष यात्री उड़ानों का संचालन हो रहा है।

पढ़ें- शख्स की आंखें रह गई फटी.. जब देखी माल्या के घर सोने की टॉयलेट..आलीशान घर भी करना होगा खाली.. जानिए और क्या-क्या है उस बाथरुम में? 

नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने बुधवार को एक बयान में कहा, ‘‘प्राधिकरण ने भारत से या भारत के लिए निर्धारित अंतरराष्ट्रीय यात्री उड़ानों के निलंबन को 28 फरवरी, 2022 तक बढ़ाने का निर्णय लिया है।’’

पढ़ें- चिड़ियाघर के शेर ‘डेल्टा’ वैरिएंट से संक्रमित, शेरों में सांस लेने की समस्या, नाक बहना और सूखी खांसी के लक्षण

नियामक के अनुसार यह प्रतिबंध अंतरराष्ट्रीय माल ढुलाई के संचालन और विशेष रूप से डीजीसीए द्वारा मंजूर की गई उड़ानों पर लागू नहीं होगा। इसके अलावा एयर बबल व्यवस्था के तहत संचालित हो रही उड़ानें भी प्रभावित नहीं होंगी।

पढ़ें- तीसरी लहर: किन राज्यों में कब आएगा कोरोना का पीक.. IIT प्रोफेसर ने बताया.. जानिए

डीजीसीए ने इससे पहले पिछले वर्ष 26 नवंबर को भारत में 15 दिसंबर, 2021 से निर्धारित अंतरराष्ट्रीय यात्री उड़ानें फिर से शुरू करने की घोषणा की थी। इसके एक ही दिन बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नागर विमानन मंत्रालय और डीजीसीए से ओमीक्रोन वायरस के कारण बढ़ती चिंताओं के बीच अपने निर्णय की समीक्षा करने के लिए कहा था। इसके बाद इस निर्णय को वापस ले लिया गया था।

पढ़ें- वरुण धवन को सदमा.. ड्राइवर की हार्ट अटैक से मौत, एक्टर संग शूटिंग सेट पर था मौजूद