कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों के बीच रुपया 75.44 प्रति डॉलर पर लगभग स्थिर

कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों के बीच रुपया 75.44 प्रति डॉलर पर लगभग स्थिर

Edited By: , December 7, 2021 / 07:59 PM IST

मुंबई, सात दिसंबर (भाषा) कच्चे तेल कीमतों में तेजी तथा विदेशी पूंजी की सतत निकासी से निवेशकों की कारोबारी धारणा प्रभावित हुई तथा अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में मंगलवार को रुपये का आरंभिक लाभ लुप्त हो गया और अमेरिकी मुद्रा के मुकाबले यह 75.44 प्रति डॉलर पर लगभग अपरिवर्तित बंद हुआ।

बाजार विश्लेषकों ने कहा कि घरेलू शेयर बाजार में तेजी के बीच रुपये की गिरावट पर अंकुश लग गया।

अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में रुपया 75.31 पर मजबूत खुलने के बाद ऊंचे में 74.26 और नीचे में 75.49 तक गया।

अंत में रुपया महज एक पैसे की तेजी के साथ 75.44 प्रति डॉलर पर बंद हुआ।

एलकेपी सिक्योरिटीज के वरिष्ठ शोध विश्लेषक जतीन त्रिवेदी ने कहा, ‘‘रुपये ने 74.35-74.50 के दायरे में कारोबार किया, क्योंकि डॉलर इंडेक्स में एक सीमित दायरे में कारोबार हुआ। कोरोना के ओमीक्रॉन स्वरूप पर अनुकूल खबरों के बाद पूंजी बाजार में सकारात्मक रुख कायम हो गया जिससे रुपये की गिरावट थामने में मदद मिली। लेकिन कच्चे तेल की बढ़ती कीमतें रुपये के लिए चिंता का विषय बनी हुई हैं। आगे चलकर रुपया 74.30-74.75 के दायरे में देखा जा सकता है।’’

इस बीच, छह मुद्राओं की तुलना में डॉलर का रुख दर्शाने वाला डॉलर सूचकांक 0.05 प्रतिशत की तेजी के साथ 96.37 हो गया।

वैश्विक मानक ब्रेंट क्रूड वायदा की कीमत दो प्रतिशत की तेजी के साथ 74.54 डॉलर प्रति बैरल पहुंच गयी।।

बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 886.51 अंक की तेजी के साथ 57,633.65 अंक पर बंद हुआ।

शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार, विदेशी संस्थागत निवेशक पूंजी बाजार में शुद्ध बिकवाल रहे। उन्होंने सोमवार को 3,361.28 करोड़ रुपये के शेयर बेचे।

भाषा राजेश राजेश अजय

अजय