SBI hikes MCLR by 20 basis points from 15-august 2022

आजादी के जश्न के बीच SBI ने दिया जोर का झटका, महंगाई में बढ़ेगा EMI का बोझ

SBI hikes MCLR : आज देशभर में आजादी का जश्न मन रहा है। हर तरफ देशभक्ति के तरानों की गूंज है। सभी लोग विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन कर अमृत ...

Edited By: , August 15, 2022 / 08:50 PM IST

SBI hikes MCLR : आज देशभर में आजादी का जश्न मन रहा है। हर तरफ देशभक्ति के तरानों की गूंज है। सभी लोग विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन कर अमृत महोत्सव मना रहे है। आजादी के 75 साल पूरे होने पर लोगों में भारी खुशी है। इस बीच देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने अपने ग्राहकों को जोरदार झटका दिया है। दरअसल, SBI ने अपनी मार्जिनल कॉस्ट बेस्ड लेंडिंग रेट (MCLR) में 20 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी की है। इसके बाद बैंक से कर्ज लेना और भी महंगा हो जाएगा। नई दरें 15 अगस्त 2022 से लागू होंगी।

read more :  Weather Update: मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट, इन राज्यों में होगी झमाझम बारिश

स्टेट बैंक के कर्ज की ब्याज दरों में बढ़ोतरी के बाद अब एक रात से तीन महीने की अवधि के लिए MCLR दर 7.15 फीसदी से बढ़कर 7.35 फीसदी हो गई है। जबकि, छह महीने की अवधि के लोन पर इसे 7.45 फीसदी से बढ़ाकर 7.65 फीसदी कर दिया गया है। एक साल के लोन पर MCLR दर 7.50 फीसदी के बजाय 7.70 फीसदी और दो साल के टेन्योर के लिए 7.70 फीसदी से 7.90 फीसदी कर दी गई है। इसके अलावा तीन साल की अवधि के लिए यह दर 7.80 फीसदी की जगह 8.00 फीसदी हो गई है।

read more : नहीं देखी होगी सपना चौधरी की ऐसी सादगी, तिरंगा साड़ी पहन दिया देशप्रेम का ऐसा मंत्र, कहा- ‘हमारी मोहब्बत मजहब से नहीं मुल्क से है’, देखें वीडियो 

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया  की वेबसाइट के मुताबिक, विभिन्न टेन्योर के लोन के लिए एमसीएलआर दरों में इजाफा किया गया है। बैंक की ओर से ये फैसला भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) द्वारा रेपो रेट  में बढ़ोतरी करने के बाद लिया गया है। गौरतलब है कि महंगाई को काबू में करने के लिए इस महीने की शुरुआत में आरबीआई ने रेपो रेट में 50 बेसिस प्वाइंट की वृद्धि की थी।

SBI के ग्राहकों को बैंक की ओर से बीते तीन महीने में तीसरी बार झटका लगा है। स्टेट बैंक मई महीने से अब तक एमसीएलआर में 50 बीपीएस की वृद्धि कर चुका है। MCLR दरों के साथ ही एसबीआई ने एक्सटर्नल बेंचमार्क बेस्ड लेंडिंग रेट (EBLR) और रेपो लिंक्ड लेंडिंग रेट में 50 बीपीएस की बढ़ोतरी की है। ये दरें भी 15 अगस्त से लागू हो गई हैं। इससे पहले HDFC Bank, Bank of Baroda,IDFC First और Canara Bank ने भी इन दरों को बढ़ाया है।

read more : रामायण की ‘सीता’ ने PakPMO को किया टैग, हो गई ऐसी भूल, यूजर्स बोले- हे प्रभु कहां हो आप! 

और भी है बड़ी खबरें…