विजयदशमी पर विधिवत हुई शस्त्रों की पूजा, पुलिस मुख्यालय, SP कार्यालय समेत थाना-चौकियों में निकले शस्त्र |

विजयदशमी पर विधिवत हुई शस्त्रों की पूजा, पुलिस मुख्यालय, SP कार्यालय समेत थाना-चौकियों में निकले शस्त्र

दशहरे के मौके पर राजधानी रायपुर के पुलिस लाईन में शस्त्रों की पूजा की गई । इस दौरान वरिष्ठ पुलिस अधिक्षक प्रशांत अग्रवाल के साथ बड़ी संख्या में पुलिस के आला अधिकारी और उनके परिवार के सदस्य भी मौजूद रहे।

Edited By: , October 5, 2022 / 12:46 PM IST

dussehra shastra pujan: रायपुर। आज पूरा देश दशहरा पर्व मना रहा है, विजया दशमी पर शस्त्र पूजा की परंपरा है, इसे निभाते हुए पुलिस विभाग द्वारा आज राजधानी रायपुर, ​न्यायधानी बिलासपुर, बलरामपुर, विभिन्न जिला मुख्यालयों में पुलिस विभाग ने शस्त्र पूजा की। इसके अलावा पुलिस अधीक्षक कार्यालय एवं समस्त थाना एवं चौकियों में भी शस्त्रों की पूजा की गई।

दशहरे के मौके पर राजधानी रायपुर के पुलिस लाईन में शस्त्रों की पूजा की गई । इस दौरान वरिष्ठ पुलिस अधिक्षक प्रशांत अग्रवाल के साथ बड़ी संख्या में पुलिस के आला अधिकारी और उनके परिवार के सदस्य भी मौजूद रहे। जानकारी के मुताबिक हर साल ये पूजा की जाती है, साथ ही मां दुर्गा से प्रार्थना की जाती है, कि वो पुलिस विभाग और पूरे जिले की रक्षा करें। ये परंपरा कई सालों से चली आ रही है। इस मौके पर सारे शस्त्र बाहर निकाले गए…साथ ही हर्ष फायरिंग भी की गई ।

read more: Sagar में Patwari ने तानाशाह तरीके से मंगवाई माफी | जन प्रतिनिधि को झुकाकर पीठ पर रखा पैर | देखिए

वहीं विजयादशमी के मौके पर बिलासपुर पुलिस ने भी शस्त्र पूजन की परंपरा निभाई। हर वर्ष की तरह पुलिस लाइन में शस्त्र पूजन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें SSP पारुल माथुर व जिले के अन्य पुलिस अधिकारी मौजूद रहे। इस दौरान विधिवत शस्त्रों, शस्त्रागार और पुलिस वाहनों की पूजा की गई। पुलिस अधिकारियों ने इस दौरान हवाई फायर भी किया और बुराई पर अच्छाई की जीत का संकल्प लिया। SSP ने इसके साथ ही दशहरा पर्व पर लोगों से पुलिस को सहयोग करने की अपील की।

read more: Madhya Pradesh में तबादलों से हटे बैन की अवधि आज होगी खत्म | बढ़ाई जा सकती है Transfer की तारीख

विजयदशमी पर्व पर आज बलरामपुर जिले में कई स्थानों पर शस्त्र पूजा की गई। संत गहिरा गुरु के आश्रम श्रीकोट में संसदीय सचिव चिंतामणि महाराज ने विधि विधान से शस्त्रों की पूजा की। संसदीय सचिव चिंतामणि महाराज ने अपने परिवार एवं गांव के लोगों के साथ मिलकर संत गहिरा गुरु के आश्रम में सर्वप्रथम शस्त्रों की पूजा की एवं उनकी आराधना की इस दौरान आसपास के गांव के लोग भी शामिल हुए। दशहरा के इस पावन पर्व पर समस्त थाना एवं पुलिस चौकियों में भी थाना प्रभारियों ने विधि विधान से शस्त्रों की पूजा कर आशीर्वाद मांगा।

read more: गदर मचाएगी ‘आयुष शर्मा’ की ये फिल्म, टीजर देखकर आप भी कहेंगे Hit है Boss

समाज से बुराई रूपी रावण के खात्मे के लिए राजनांदगांव शहर के पुलिस लाइन स्थित रक्षित केंद्र में विजयदशमी के महापर्व के अवसर पर शस्त्र पूजा की गई। इस पूजा में डीआईजी, पुलिस अधीक्षक सहित बड़ी संख्या में पुलिस के जवान शामिल हुए और मां भवानी से बुराई रूपी रावण के खात्मे के लिए आशीष मांगा।

अपने प्रति वर्ष की परंपरा के अनुरूप शस्त्रों की पूजा कर नक्सलवाद और समाज में फैले बुराई रूपी रावण के खात्मे के लिए विजयदशमी के अवसर पर पुलिस विभाग द्वारा मां भवानी की पूजा अर्चना कर हवन यज्ञ के साथ शस्त्रों की पूजा की जाती है। इस वर्ष भी राजनांदगांव के डीआईजी राम गोपाल गर्ग सहित पुलिस अधीक्षक प्रफुल्ल ठाकुर और पुलिस के आला अधिकारियों के साथ पुलिस जवानों ने शस्त्रों की पूजा की और मां दुर्गा से बुराइयों के खात्मे के लिए लड़ने शक्ति देने की कामना की। शस्त्र पूजा के इस आयोजन के दौरान राजनांदगांव के डीआईजी राम गोपाल गर्ग ने कहा कि प्रतिवर्ष की परंपरा के अनुरूप आज विजयदशमी के अवसर पर शस्त्रों की पूजा की गई है।

पुलिस विभाग द्वारा रक्षित केंद्र में आयोजित इस पूजा में आधुनिक हथियारों को रखा गया था, ताकि नक्सलवाद और बुराई रूपी रावण से डटकर मुकाबला किया जा सके। इस दौरान वाहनों की पूजा भी की गई और पुलिस अधीक्षक, डीआईजी सहित अन्य पुलिस अधिकारियों ने शस्त्र चलाकर आधुनिक बंदूकों से फायरिंग करते हुए असत्य पर सत्य की जीत का प्रतीकात्मक संदेश दिया।