गणतंत्र दिवस परेड के दौरान 24,000 लोगों को उपस्थित रहने की मिलेगी अनुमति, रक्षा सूत्रों ने दी जानकारी

गणतंत्र दिवस परेड के दौरान 24,000 लोगों को उपस्थित रहने की होगी अनुमति

Edited By: , January 15, 2022 / 02:03 PM IST

नई दिल्ली, 15 जनवरी (भाषा) कोविड-19 वैश्विक महामारी संबंधी हालात के मद्देनजर राष्ट्रीय राजधानी में इस साल 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस परेड के दौरान करीब 24,000 लोगों को उपस्थित रहने की अनुमति दी जाएगी। रक्षा प्रतिष्ठान में सूत्रों ने शनिवार को यह जानकारी दी।

पढ़ें- बीजेपी में टिकट वितरण से नाराजगी.. मनोहर पर्रिकर के बेटे उत्पल लड़ सकते हैं निर्दलीय चुनाव

सूत्रों ने बताया कि देश में वैश्विक महामारी की मार पड़ने से पहले 2020 में करीब 1.25 लाख लोगों को परेड के दौरान उपस्थित रहने की अनुमति थी। उन्होंने बताया कि पिछले साल कोविड-19 के प्रकोप के बीच गणतंत्र दिवस परेड का आयोजन किया गया था और करीब 25,000 लोगों को इस दौरान उपस्थित रहने की अनुमति थी।

पढ़ें- छत्तीसगढ़ में 12 से 15 लाख नए रोजगार मिलेंगे,’रोजगार मिशन’ के अध्यक्ष होंगे सीएम भूपेश.. जानिए क्या है कार्ययोजना 

सूत्रों ने बताया कि पिछली बार की तरह इस बार भी वैश्विक महामारी के कारण मुख्य अतिथि के रूप में विदेश से किसी गणमान्य व्यक्ति को संभवत: आमंत्रित नहीं किया जाएगा। भारत उज्बेकिस्तान, तुर्कमेनिस्तान, कजाकिस्तान, किर्गिज गणराज्य और ताजिकिस्तान के नेताओं को आमंत्रित करने की योजना बना रहा है।

पढ़ें- 7th Pay Commission: खुशखबरी.. 18,000 से बढ़ाकर 26,000 रुपए हो सकती है न्यूनतम सैलरी, जल्द हो सकता है ऐलान

उन्होंने बताया कि इस साल परेड के दौरान उपस्थित रहने वाले करीब 24,000 लोगों में से 19,000 लोगों को आमंत्रित किया जाएगा और शेष आमजन होंगे, जो टिकट खरीद सकेंगे।

पढ़ें- मास्क नहीं पहनने वाले 24 रेल यात्रियों पर जुर्माना, रेलवे की टीम ने की कार्रवाई

परेड के दौरान कोविड-19 संबंधी सभी प्रोटोकॉल का पालन किया जाएगा। सूत्रों ने बताया कि लोगों के बैठने का प्रबंध करते समय सामाजिक दूरी के नियमों का पालन किया जाएगा। हर जगह सैनेटाइजर का छिड़काव करने वाले उपकरण लगे होंगे और मास्क पहनना अनिवार्य होगा।