कोविड-19 के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं, लेकिन अस्पतालों में भर्ती और मौतों की दर कम:केजरीवाल

कोविड-19 के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं, लेकिन अस्पतालों में भर्ती और मौतों की दर कम:केजरीवाल

: , January 14, 2022 / 08:04 PM IST

नयी दिल्ली, 14 जनवरी (भाषा) दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में कोविड-19 के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं लेकिन चिंता की कोई बात नहीं है क्योंकि अस्पतालों में मरीजों की भर्ती एवं मौत की दर बेहद कम है।

उन्होंने लोगों से जिम्मेदारी भरा रवैया अपनाने का आह्वान किया एवं आश्वासन दिया कि सरकार ने पूरी तैयारियां कर ली हैं एवं अस्पतालों में पर्याप्त बिस्तर हैं।

उन्होंने यह भी कहा कि कोरोना वायरस के मामलों में तीव्र वृद्धि के मद्देनजर लगायी गयी पाबंदियां जरूरत पड़ने पर ही और सख्त की जाएंगी , ‘‘लेकिन यदि कोरोना के मामलों में कमी आती है तो हम पाबंदियों में ढील देंगे।’’

केजरीवाल ने यहां एक कार्यक्रम से इतर संवाददाताओं से कहा, ‘‘ मामले तेजी से बढ़ रहे हैं, इसमें कोई दो राय नहीं है। हम सभी जानते हैं कि ओमीक्रोन स्वरूप बहुत ही तेजी से फैलने वाला एवं संक्रामक है। ’’

केजरीवाल 100 लो -फ्लोर एसी सीएनजी बसों को बेड़े में शामिल करने के लिए राजघाट आए थे। ये बसें बाहरी दिल्ली में घुमनहेड़ा डिपो से संचालित होंगी एवं ग्रामीण क्षेत्रों को सेवाएं प्रदान करेंगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मामलों एवं संक्रमण दर में वृद्धि , जो 29 फीसदी को पार कर गयी, के बावजूद अस्पतालों में मरीजों की भर्ती एवं मौतों की दरें बेहद कम है।

उन्होंने कहा, ‘‘ परिणामस्वरूप, लोगों के चिंतिंत होने या घबराने की जरूरत नहीं है। दिल्ली सरकार के दृष्टिकोण से सभी चीजें व्यवस्थित हैं। अस्पतालों में बिस्तरों की कोई कमी नहीं है। आईसीयू बेड भी पर्याप्त है। हमें घबराने की जरूरत नहीं है, बल्कि हमें जिम्मेदाराना ढंग से काम करने की जरूरत है। हम कोरोना वायरस की स्थिति पर नजर रख रहे हैं।’’

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन का कहना है कि अस्पतालों में भर्ती की दर स्थिर हो गयी है जो इस बात का संकेत है कि वर्तमान लहर सपाट हो गयी है। उनके अनुसार जिन लोगों की मौत हुई है उनमें 75 फीसद को टीका नहीं लगा था और 90 फीसद को अन्य गंभीर बीमारियां थीं।

दिल्ली में बृहस्पतिवार को कोविड-19 के 28,867 नये मामले सामने आये जो इस महामारी के फैलने के बाद से एकदिन में सर्वाधिक आंकड़ा है। कल 31 मरीजों की जान चली गयी एवं संक्रमण दर 29.31 फीसदी पर पहुंच गयी। सरकार द्वारा जारी आंकड़ों में यह जानकारी दी गयी ।

भाषा

राजकुमार पवनेश

पवनेश

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)