Demand raised for Pilot to become CM : bharat jodo yatra latest news

भारत जोड़ो यात्रा के आगमन से पहले ही पायलट को सीएम बनाने की उठी मांग, इस नेता ने राहुल गांधी को दी चेतावनी, कहा- ‘उन्हें सीएम बनाओं नहीं तो…’

Demand raised for Pilot to become CM : विजय बैंसला ने चेतावनी देते हुए कहा है कि यदि प्रदेश का सीएम सचिन पायलट को नहीं बनाया गया तो...

Edited By: , November 29, 2022 / 08:37 PM IST

नई दिल्ली।Demand raised for Pilot to become CM :  राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा मध्यप्रदेश में प्रवेश कर चुकी है। ऐसे में मध्य प्रदेश कांग्रेस पार्टी राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा के लिए पूरी तैयारियों में लगी हुई है मध्यप्रदेश के बाद यह यात्रा सीधे राजस्थान में प्रवेश करेगी। राजस्थान में भारत जोड़ो यात्रा प्रवेश करने से पहले ही गुर्जर समुदाय के लोगों में में बगावती तेवर देखे जा रहे हैं। राजस्थान कांग्रेस पार्टी के विधायक सचिन पायलट को प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है यात्रा के आगमन से पहले ही राजस्थान में गुर्जर नेता चेतावनी दे दी है। वैसे अगर देखा जाए तो प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और विधायक सचिन पायलट आपसी सामंजस नहीं बैठ पा रहा है।

read more : ‘उसने सारी हदें पार दी.. अब मैं बर्दाश्त नहीं कर सकती’… कांग्रेस MLA उमंग सिंघार की पत्नी ने सोनिया गांधी को लिखा लेटर 

 

Demand raised for Pilot to become CM : बुधवार को हुई कांग्रेस पार्टी की मीटिंग में भी दूरी दोनों के बीच दूरियां देखेंगे यहां तक की बैठक के तुरंत बाद ही विधायक सचिन पायलट बाहर निकल गए। मुख्यमंत्री और सचिन पायलट के बीच मीटिंग में कोई भी बातचीत नहीं हुई ऐसे में देखा जा रहा है कि दोनों में अभी भी दूरियां हैं भारत जोड़ी यात्रा के प्रदेश में आने के बाद दोनों के बीच यह मनमुटाव कहीं कांग्रेस पार्टी को भारी न पड़ जाए। वही गुर्जर नेता विजय बैंसला ने कांग्रेस पार्टी को अल्टीमेटम दे दिया है।  विजय बैंसला ने चेतावनी देते हुए कहा है कि यदि प्रदेश का सीएम सचिन पायलट को नहीं बनाया गया तो गुर्जर समुदाय के लोग राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा का विरोध करेंगे। साथ ही कहा है कि मौजूदा कांग्रेस सरकार ने 4 साल पूरे कर लिए हैं और अभी 1 साल बचा हुआ है ऐसे में कांग्रेस विधायक और प्रदेश के युवाओं के चाहिता सचिन पायलट को मुख्यमंत्री बनाना चाहिए। यदि ऐसा होता है तो प्रदेश में राहुल गांधी का स्वागत है।

read more : शराब के शौकीन हो जाएं सावधान! भूल से भी न करें ये गलती, शिक्षा अधिकारी ने जारी किया नोटिस 

 

Demand raised for Pilot to become CM : गुर्जर नेता बैंसला ने साफतौर से जाहिर कर दिया है कि राजस्थान में भारत जोड़ो यात्रा का विरोध होने वाला है। उन्होंने यह बात ऐसे सटीक समय पर कहीं जब भारत जोड़ो यात्रा का राजस्थान में आगमन होने के लिए बहुत ही कम समय बचा हुआ है हालांकि अभी यह यात्रा मध्यप्रदेश में है। बैंसला ने अपनी बात जारी रखते हुए कहा है कि ऐसा नहीं है कि हम यात्रा को रोकने की धमकी दे रहे हैं लेकिन राजस्थान सरकार गुर्जर समुदाय के लोगों की मांगों को पूरा नहीं कर रही है। जिसके चलते हम सभी को ऐसा कदम उठाना पड़ रहा है।

read more : Pre wedding photoshoot : प्री वेडिंग फोटोशूट करवाने की कर रहे प्लानिंग, चुने ये बेस्ट लोकेशन 

 

Demand raised for Pilot to become CM : आपकी जानकारी के लिए बता दूं कि राजस्थान में गुर्जर समुदाय के लोग लंबे समय से कांग्रेस विधायक सचिन पायलट को प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाने के लिए बातें कर रहे हैं। यहां तक की वह इंतजार में हैं कि सचिन पायलट कब प्रदेश के मुख्यमंत्री बनेंगे राजस्थान में कांग्रेस को जीत दिलवाने में पायलट की अहम भूमिका मानी जाती है। ऐसा माना जा रहा है कि आगामी चुनाव में अगर पायलट ने अच्छा प्रदर्शन किया प्रदेश का अगला मुख्यमंत्री कांग्रेस पार्टी सचिन पायलट को ही बनाएगी।

read more : सीएम भूपेश ने इस विधानसभा को दी कई सौगात, 63 करोड़ रुपए से ज्यादा के विकासकार्यों का किया भूमिपूजन और लोकार्पण 

 

गौरतलब है कि 2020 में पायलट ने दो दर्जन समर्थक विधायकों के साथ बगावती तेवर दिखाए थे। इसी बीच उनके भाजपा में शामिल होने की खबरें भी सामने आ रही थी। लेकिन राहुल गांधी और प्रियंका गांधी ने सचिन पायलट को मना लिया। वहीं हाल ही में हुए कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष पार्टी के चुनाव में भी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और कांग्रेस विधायक सचिन पायलट के बीच मनमुटाव देखा गया। जब अशोक गहलोत को अध्यक्ष उम्मीदवार पद से पीछे हटना पड़ा तो ऐसे कयास लगाए जा रहे थे कि अगर अशोक गहलोत कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनते हैं तो उनको सीएम पद से इस्तीफा देना होगा। इसी वजह से शायद राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से उनको अपना नाम वापस लेना पड़ा। अगर वह कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष उम्मीदवार और चुनाव लड़ते ऐसा माना जा रहा था। अशोक गहलोत के इस्तीफे के बाद कांग्रेस विधायक सचिन पायलट का मुख्यमंत्री बनना तय है।

read more : Teacher Recruitment 2022: 7540 पदों पर निकली है शिक्षकों की भर्ती, 35000 से ज्यादा मिलेगी सैलरी, जल्द करें अप्लाई 

 

हालांकि सूत्रों के अनुसार ऐसा माना जा रहा है। अशोक गहलोत बिल्कुल भी नहीं चाहते कि सचिन पायलट प्रदेश के सीएम बने प्रदेश में सचिन युवाओं के प्रेरणा है। पूरे प्रदेश में युवा शक्ति सचिन पायलट का समर्थन करती है। अगर आंकड़ों की बात की जाए तो अशोक गहलोत से ज्यादा सचिन पायलट के पास जनता का समर्थन ज्यादा है। बीच में सचिन पायलट ने कुछ महासभा में भी की थी जिसमें साफ तौर पर देखा जा रहा था कि हजारों की तादाद में सचिन पायलट को लोगों का समर्थन मिल रहा था। सूत्रों के अनुसार ऐसा भी माना जाता है। सचिन पायलट खुद कांग्रेस पार्टी से नाखुश हैं प्रदेश में सीएम अशोक गहलोत की कार्यों से नाखुश हैं।

 

और भी लेटेस्ट और बड़ी खबरों के लिए यहां पर क्लिक करें