बैग में सुसाइड नोट छोड़ छात्रा ने किले से लगा दी छलांग, 50 फीट नीचे झाड़ियों में अटकी, घंटों मशक्कत के बाद बचाया गया

Leaving the suicide note in the bag, the student jumped from the fort

: , December 3, 2021 / 02:34 PM IST

ग्वालियर, मध्यप्रदेश।  खुदकुशी के इरादे से एक छात्रा ने किले से छलांग लगा दी। छात्रा करीब 50 फीट की गहराई में झाड़ियों में जा अटकी। शोर सुनकर वहां एक लड़के ने दोस्त के साथ पहुंचकर उसे बचाया।

पढ़ें- CGPSC PCS 2021: छत्तीसगढ़ पीसीएस के लिए आवेदन की शुरू, DSP, डिप्टी कलेक्टर, फाइनेंस ऑफिसर, सहायक संचालक, नायब तहसीलदार के पदों पर भर्ती 

पुलिस और दमकल की टीम ने करीब एक घंटे की मशक्कत के बाद उसे सुरक्षित निकाला। घटना बुधवार दोपहर किला स्थित स्मार्ट सिटी की पार्किंग के पास पॉइंट की है। घायल छात्रा जहां से कूदी, वहां स्कूल बैग मिला है। उसमें सुसाइड नोट भी है। इसमें जिंदगी से परेशान होने की बात लिखी है।

पढ़ें- राष्ट्रीय स्तर पर फिर सम्मानित हुआ छत्तीसगढ़, दिव्यांगजनों के कल्याण के उत्कृष्ट कार्यों के लिए मिले 3 राष्ट्रीय पुरस्कार 

किला स्थित स्मार्ट सिटी की पार्किंग के पास सुसाइड पॉइंट है। यहां किले की दीवार टूटी हुई है। हालांकि पहले हुए हादसे के बाद यहां जाली लगा दी गई है। इसके बाद भी 18 साल की छात्रा बुधवार को यहां पहुंची। छात्रा के कूदते की आवाज सुन पास ही शॉप पर मौजूद रित्विक नाम का लड़का उसे बचाने दौड़ा।

पढ़ें- जयमाला की थी तैयारी, स्टेज पर चढ़ प्रेमी ने भर दिया दुल्हन की मांग, दूल्हे को लग गया सदमा

जब लड़की का बैग देखा, तो उसमें सुसाइड नोट के साथ छात्रा का नाम संजना मिला। उसका नाम लेकर आवाज लगानी शुरू की, तो झाड़ियों से आवाज आई। इसके बाद रस्सी डालकर बाहर निकाला गया। पुलिस ने उसे एम्बुलेंस से जेएएच के ट्राॅमा सेंटर में भर्ती कराया है। कूदने वाली लड़की की पहचान संजना बघेल के रूप में हुई है। वह 11वीं की छात्रा है।

पढ़ें- धान खरीदी केंद्रों में भी लगाए जा रहे कोरोना वैक्सीन, प्रदेश में 90% लोगों को लग चुका है पहला डोज, 49% को लग चुके हैं दोनों टीके