केरल में बारिश का कहर, बांधों का बढ़ा जलस्तर, कई इलाके बाढ़ की चपेट में, आज भी भारी बारिश का अलर्ट

कि कुछ बांधों के द्वार खोले जाएंगे, जिसके परिणामस्वरूप दक्षिण तथा मध्य केरल में नदियों का जल स्तर बढ़ सकता है।

Edited By: , October 18, 2021 / 12:03 PM IST

तिरुवनंतपुरम,  (भाषा) केरल सरकार ने भारी बारिश की वजह से कई बांधों में जल स्तर बढ़ने के मद्देनजर सोमवार को एक ‘अलर्ट’ जारी किया कि कुछ बांधों के द्वार खोले जाएंगे, जिसके परिणामस्वरूप दक्षिण तथा मध्य केरल में नदियों का जल स्तर बढ़ सकता है।

ये भी पढ़ें: मंडलम, सेक्टर बन गए हैं, तो ऊपर से क्यों होते हैं निर्णय? कांग्रेस विधायक ने अपनी ही पार्टी के आलाकमान पर उठाए सवाल

इडुक्की जलाशय में जल स्तर सोमवार को 2,396.96 फुट तक बढ़ गया और ‘ऑरेंज अलर्ट’ जारी किया गया है, जबकि इडुक्की बांध की पूर्ण क्षमता 2,403 फुट है।

शोलेयार, पम्बा, कक्की और इदमलयार सहित विभिन्न बांधों में जल स्तर बढ़ रहा है। इसके मद्देनजर राज्य सरकार ने एक बैठक बुलाई है, जिसकी अध्यक्षता मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन करेंगे।

राज्य की स्वास्थ्य मंत्री वीणा जॉर्ज ने बताया कि पम्बा बांध के लिए ‘ऑरेंज अलर्ट’ जारी किया गया है और कक्की बांध के द्वारों को आज दोपहर से पहले खोला जाएगा। कक्की बांध, पतनमतिट्टा जिले के अधीन आता है और वीणा जॉर्ज इसी जिले की प्रभारी हैं।

ये भी पढ़ें: सांसद प्रज्ञा ठाकुर की बुद्धि शुद्धि के लिए कांग्रेस ने की पूजा-अर्चना, विधायक पीसी शर्मा ने भी साधा निशाना

अचनकोविल नदी के किनारे पन्दलम के पास चेरिकल, पूझिकाडु, मुदियूरकोणम और कुरमबाला क्षेत्रों के निचले इलाकों में बाढ़ आई है। अचनकोविल में जल स्तर बढ़ रहा है और आरणमुला, किदंगन्नूर तथा ओमल्लूर के तटीय इलाकों में भी ‘अलर्ट’ जारी किया गया है। लोगों को पतनमतिट्टा जिले में बने विभिन्न राहत शिविरों में पहुंचाया गया है।

इस बीच, राज्य सरकार ने राहत एवं बचाव कार्यों में समन्वय के लिए एडीजीपी विजय सखारे को नोडल अधिकारी नियुक्त किया है।

ये भी पढ़ें: ये गजब है! थाने के मालखाने से ही 25 लाख रुपए ले उड़े चोर, मची अफरातफरी

त्रिशूर की जिला कलेक्टर हरिथा वी कुमार ने चालक्कुडी नदी के किनारे रहने वाले लोगों को सतर्क रहने को कहा है, क्योंकि शोलेयार बांध के द्वारों को जल्द ही खोला जा सकता है, जिससे नदी का जल स्तर बढ़ सकता है।

ये भी पढ़ें: कहीं आप भी तो नहीं पड़ गए ‘प्रॉफिट-मेनिया’ के चक्कर में, पैसे डबल करने के नाम पर लगाया लाखों का चूना