विशेष अदालत ने बेंगलुरु पुलिस को उपमुख्यमंत्री शिवकुमार के खिलाफ मामला दर्ज करने का निर्देश दिया |

विशेष अदालत ने बेंगलुरु पुलिस को उपमुख्यमंत्री शिवकुमार के खिलाफ मामला दर्ज करने का निर्देश दिया

विशेष अदालत ने बेंगलुरु पुलिस को उपमुख्यमंत्री शिवकुमार के खिलाफ मामला दर्ज करने का निर्देश दिया

:   Modified Date:  February 7, 2024 / 12:36 PM IST, Published Date : February 7, 2024/12:36 pm IST

बेंगलुरु, सात फरवरी (भाषा) कर्नाटक में बेंगलुरु की एक विशेष अदालत ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेताओं के प्रदर्शन की एक फर्जी तस्वीर का कथित तौर पर इस्तेमाल करने के लिए पुलिस को उपमुख्यमंत्री डी के शिवकुमार के साथ-साथ कांग्रेस की राज्य इकाई के आईटी प्रकोष्ठ के प्रमुख बी.आर. नायडू के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज करने का निर्देश दिया है।

भाजपा नेताओं ने वर्ष 1992 में बाबरी मस्जिद विध्वंस आंदोलन का हिस्सा रहे कार सेवक श्रीकांत पुजारी की गिरफ्तारी को लेकर हाल ही में हुए प्रदर्शन में हिस्सा लिया था

भाजपा के प्रदर्शनकारियों ने हाथ में तख्तियां ली हुईं थीं, जिनपर लिखा था, ”मैं भी कार सेवक, मुझे भी गिरफ्तार करो।”

कांग्रेस के आईटी प्रकोष्ठ ने तख्तियों पर लिखे नारों को कथित तौर पर बदल दिया, जिससे यह घोटालों और अन्य अनियमितताओं पर कबूलनामा जैसा लगने लगा और फिर इन्हें सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दिया। इस तस्वीर को शिवकुमार के सोशल मीडिया से भी साझा किया, जो प्रदेश इकाई के अध्यक्ष भी हैं।

भाजपा के विधि प्रकोष्ठ के राज्य संयोजक योगेन्द्र होडाघाट्टा ने सांसदों-विधायकों की विशेष अदालत में शिकायत दर्ज कराई और जिक्र किया कि दो समुदायों के बीच शत्रुता पैदा करने के लिए एक फर्जी दस्तावेज पोस्ट किया।

अदालत ने हाई ग्राउंड थाने के प्रभारी को दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 156 (3) के तहत मामला दर्ज करने का निर्देश दिया है।

भाषा जितेंद्र शोभना

शोभना

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Flowers